Wednesday , June 19 2024

कांग्रेस नेता राजा पटेरिया को पीएम मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करना पड़ा भारी, पढ़े पूरी ख़बर

मध्य प्रदेश की पन्ना पुलिस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री राजा पटेरिया को मंगलवार सुबह दमोह स्थित उनके घर से गिरफ्तार कर लिया है। पटेरिया के खिलाफ सोमवार को पन्ना के पवई में एफआईआर दर्ज की गई थी। राजा पटेरिया को उनके कथित ‘मोदी की हत्या को तत्पर रहो’ वाले बयान के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है। पुलिस उन्हें आज कोर्ट में पेश करेगी।
सोशल मीडिया पर सोमवार सुबह सामने आए एक वीडियो में पटेरिया को कांग्रेस कार्यकर्ताओं से यह कहते हुए सुना जा सकता है, ”मोदी चुनाव खत्म कर देंगे। मोदी धर्म, जाति, भाषा के आधार पर (लोगों को) बांट देंगे। दलितों का, आदिवासियों का, अल्पसंख्यकों का भावी जीवन खतरे में है। संविधान बचाना है तो मोदी की हत्या करने के लिए तत्पर रहो। हत्या का मतलब है, हराने का काम करो।” पटेरिया का यह कथित वीडियो मध्य प्रदेश के पन्ना जिले के पवई कस्बे का है। हालांकि, बयान पर विवाद बढ़ने के बाद पटेरिया ने एक वीडियो जारी कर सफाई दी थी कि उनका मतलब चुनावों में प्रधानमंत्री मोदी को हराने से था, लेकिन उनकी टिप्पणी को गलत तरीके से पेश किया जा रहा है। भाजपा नेताओं ने कांग्रेस पर किया हमला केंद्रीय मंत्रियों सहित भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ कांग्रेस नेता राजा पटेरिया की ओर से की गई टिप्पणी के लिए सोमवार को प्रमुख विपक्षी पार्टी पर निशाना साधा था। केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने पटेरिया के इस बयान के लिए कांग्रेस की घोर निंदा की और कहा कि पटेरिया का यह बयान कांग्रेस की हिंसक मानसिकता का परिचायक है। इस प्रकार की मानसिकता के कारण ही देश भर में कांग्रेस का पराभव हुआ है। उन्होंने कहा कि इस निंदनीय और घृणित बयान के लिए कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व को माफी मांगनी चाहिए और मध्य प्रदेश सरकार को घटना को संज्ञान में लेकर कार्रवाई करनी चाहिए। वहीं, केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने कहा था कि प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ इस प्रकार की आपत्तिजनक टिप्पणी करने का कांग्रेस का पुराना इतिहास रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मोदी को ‘मौत का सौदागर’ कहा था, वहीं वर्तमान अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने हाल ही में प्रधानमंत्री की तुलना ‘रावण’ से की थी। उन्होंने कहा कि पटेरिया का बयान कांग्रेस शासन के दौरान पनपी ‘हत्या की राजनीति’ को रेखांकित करता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को देश की जनता ने समय-समय पर सबक सिखाया है, लेकिन फिर भी उसने कोई सीख नहीं ली है। चौबे ने पटेरिया के खिलाफ कानूनी कार्रवाई किए जाने की मांग की।  

Check Also

30 जून से शुरू होगा ‘मन की बात’ कार्यक्रम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकसभा चुनाव के बाद पहली बार 30 जून को रेडियो पर मन …