Monday , May 20 2024

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने सरकारी आवास पर कोविड संक्रमण की स्थिति की समीक्षा की

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने 25 अप्रैल, 2022 को अपने सरकारी आवास पर कोविड संक्रमण की वर्तमान स्थिति की समीक्षा की।

कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णन ने आज़म खान से की मुलाकात, कही ये बात

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने प्रदेश में कोविड-19 से बचाव व उपचार की व्यवस्थाओं को पूरी तरह चुस्त-दुरुस्त बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि जनपद गौतमबुद्धनगर में 120, गाजियाबाद में 49 और लखनऊ में 12 नए कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हुई है। इन जनपदों में अतिरिक्त सतर्कता बरती जाए। साथ ही, फेस मास्क की अनिवार्यता को प्रभावी बनाया जाए। पब्लिक एड्रेस सिस्टम का व्यापक उपयोग करते हुए लोगों को कोविड प्रोटोकॉल के अनुपालन के लिए जागरूक किया जाए।

टीम-9 के साथ समीक्षा बैठक

मुख्यमंत्री जी आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत टीम-9 की बैठक में प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि विगत कुछ दिनों से कोविड संक्रमण के नए मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार इस बार कोरोना वायरस कमजोर है, इसका संक्रमण तीव्र नहीं है। वायरस का यह वैरिएंट सामान्य वायरल की तरह ही है। कोविड टीका लगवा चुके लोगों के लिए खतरे की संभावना न्यून है। उन्होंने कहा कि बच्चों की स्वास्थ्य सुरक्षा को लेकर सतर्कता बरती जाए।

कोविड के नए केस में बढ़ोतरी : सीएम योगी ने टीम-9 को दिए ये जरूरी निर्देश

मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि पिछले 24 घण्टों राज्य में कोरोना संक्रमण के 210 नए मामले सामने आए हैं। इस अवधि में 132 व्यक्तियों को सफल उपचार के उपरान्त डिस्चार्ज किया गया है। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 1277 है। पिछले 24 घण्टे में प्रदेश में 94 हजार 324 कोरोना टेस्ट किए गए अब तक राज्य में 11 करोड़ 106 लाख 98 हजार 644 कोविड टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं।

अब तक इतने को लग चुकी हैं वैक्सीन

बैठक में यह जानकारी भी दी गयी कि, राज्य में गत दिवस तक 31 करोड़ 10 लाख 53 हजार से अधिक कोरोना वैक्सीन की डोज लगाई जा चुकी हैं। 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में 12 करोड़ 89 लाख 51 हजार से अधिक लोगों को टीके की दोनों डोज देकर कोविड सुरक्षा कवच प्रदान किया जा चुका है। इस प्रकार 87.47 प्रतिशत लोग कोविड टीके की दोनों डोज ले चुके हैं। 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में 15 करोड़ 29 लाख 17 हजार से अधिक लोगों ने कोविड वैक्सीन की पहली डोज प्राप्त कर ली है।

जेपी नड्डा की उपस्थिति में बीजेपी नेता मोहित बेनिवाल ने पीएम मोदी के ‘मन की बात’ को सुना

विगत दिवस तक 15 से 17 वर्ष आयु वर्ग में 94.62 प्रतिशत किशोर कोविड वैक्सीन की प्रथम डोज तथा 63.77 प्रतिशत किशोर टीके की दूसरी खुराक प्राप्त कर चुके हैं। 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग के 42 लाख 25 हजार से अधिक बच्चों ने टीके की पहली खुराक प्राप्त कर ली है। 26 लाख 93 हजार से अधिक प्रिकॉशन डोज प्रदान की जा चुकी हैं।

बूस्टर डोज लगाए जाने में तेजी की अपेक्षा

मुख्यमंत्री जी ने 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को बूस्टर डोज लगाए जाने में तेजी की अपेक्षा करते हुए कहा कि प्रत्येक दशा में यह सुनिश्चित किया जाए कि एक भी नागरिक टीकाकवर से वंचित न रहे। उन्होंने बूस्टर डोज की महत्ता और बूस्टर टीकाकरण केंद्रों के बारे में आमजन को जागरूक करने के निर्देश दिए।

योगी आदित्यनाथ को सीएम बने एक महीना पूरा : जानिए 4 हफ्ते में सरकार के 40 बड़े फैसले

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि, बरसात के मौसम में संचारी रोगों के प्रसार की सम्भावना रहती है। इसके दृष्टिगत सभी जरूरी उपाय किए जाएं। पूर्वी उत्तर प्रदेश के चिकित्सा संस्थानों में डॉक्टरों, पैरामेडिक्स, दवाओं आदि की पर्याप्त उपलब्धता बनाए रखी जाए। इस संबंध में स्थिति की समीक्षा कर आवश्यक प्रबंध किया जाए।

अस्पतालों में कार्य करने वाले कार्मिकों की सेवाभावना प्रेरणास्पद

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान अस्पतालों में कार्य करने वाले कार्मिकों की सेवाभावना प्रेरणास्पद है। ऐसे कार्मिकों के भविष्य की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए विभिन्न स्वास्थ्य सेवाओं की नियुक्तियों में वेटेज दिया जाए। उन्होंने इस संबंध में विस्तृत प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए।

भीषण गर्मी के लिए तैयार रहें दिल्लीवाले : 28 अप्रैल तक 45 डिग्री तक पहुंच सकता है पारा

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि मंत्रिमण्डल के समक्ष सभी विभागों की आगामी 100 दिन 06 माह 01 वर्ष, 02 वर्ष और 05 वर्ष की कार्ययोजना का प्रस्तुतीकरण संपन्न हो चुका है। उन्होंने निर्देशित किया कि मंत्रिमण्डल के सदस्यों के सुझावों को समाहित करते हुए कार्ययोजना के क्रियान्वयन पर बल दिया जाए। साथ ही निर्धारित लक्ष्यों को समयबद्ध ढंग से पूरा किया जाए। इस सम्बन्ध में होने वाली प्रगति से मुख्यमंत्री कार्यालय को अवगत कराया जाए।

विगत 05 वर्ष में शिक्ष क्षेत्र में व्यापक सुधार किए

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश सरकार ने विगत 05 वर्ष में शिक्ष क्षेत्र में व्यापक सुधार किए हैं। प्रदेश सरकार द्वारा बड़ी संख्या 3/4 आई०टी०आई०, इन्टर कॉलेज, पॉलीटेक्निक महाविद्यालय, कौशल विकास केंद्र तथा विश्वविद्यालय स्थापित कराए गए हैं। जो संस्थान अभी संचालित नहीं हो सके हैं उनके शीघ्र संचालन की व्यवस्था की जाए।

PM आवास के बाहर उठी हनुमान चालीसा के पाठ की मांग : NCP नेता फहमीदा हसन ने अमित शाह को लिखी चिट्ठी

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि, एंटी करप्शन पोर्टल को एक्टिव रखते हुए, सभी शिकायतों का गम्भीरतापूर्वक संज्ञान लिया जाए। प्रदेश के सभी विभागों में मानव संसाधन की उपलब्धता की समीक्षा करते हुए अतिरिक्त मानव संसाधन का उचित समायोजन किया जाए।

Check Also

वाराणसी: आदि विश्वेश्वर की पूजा अर्चना के दाखिल अर्जेंट वाद पर सुनवाई आज

आदि विश्वेश्वर की पूजा अर्चना के लिए दाखिल अर्जेंट वाद पर रविवार यानी आज सिविल …