Monday , May 20 2024

यूपी में काबू में कोरोना : 85.63% लोगों ने ली वैक्सीन की दोनों खुराक, सीएम योगी ने टीम-9 को दिए निर्देश

लखनऊ। प्रदेशवासियों को कोविड टीकाकवर उपलब्ध कराने का हमारा महत्वपूर्ण अभियान सफलतापूर्वक चल रहा है। 30 करोड़ 56 लाख से अधिक कोविड टीकाकरण के साथ ही अब तक 103.65% से ज्यादा वयस्क आबादी को टीके की पहली डोज लग चुकी है, जबकि 85.63% लोगों को दोनों खुराक मिल चुकी है। 12 से 14 और 15 से 17 आयु वर्ग के टीकाकरण की प्रगति संतोषप्रद है। इसे और तेज किया जाए। सीमावर्ती कुछ राज्यों में कोविड के केस बढ़ रहे हैं, ऐसे में सीमावर्ती जनपदों में विशेष सतर्कता बरती जाए।

जालियांवाला बाग हत्याकांड की 103 वीं बरसी : PM मोदी और CM योगी ने शहीदों को नमन कर दी श्रद्धांजलि

कोविड से बचाव की हमारी ट्रेसिंग, टेस्टिंग, ट्रीटमेंट और टीकाकरण की नीति आशातीत सफलता देने वाली रही है।वर्तमान में कुल एक्टिव केस की 307 है। इनमें से 293 लोग घर पर ही स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं। विगत 24 घंटों में 01 लाख 24 हजार 673 कोरोना टेस्ट किए गए, जिसमें 55 नए कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई। इसी अवधि में 37 लोग उपचारित होकर कोरोना मुक्त भी हुए।वर्तमान में पॉजिटिविटी दर 0.05% है। यह अच्छे संकेत हैं। सतर्कता-सावधानी बनाए रखी जाए।

बूस्टर डोज दिए जाने का कार्य प्रारंभ

18+ आयु के लोगों को बूस्टर डोज दिए जाने का कार्य भी प्रारंभ हो चुका है। 700 निजी टीकाकरण केंद्र पर बूस्टर डोज लगवाया जा सकता है। इन टीकाकरण केंद्रों और बूस्टर डोज की महत्ता के बारे में आमजन को जागरूक किया जाए। प्रत्येक दशा में यह सुनिश्चित किया जाए कि एक भी नागरिक टीकाकवर से वंचित न रहे।

मुख्यमंत्री योगी के दिए दिशा निर्देश

शासकीय कार्यालयों में हर अधिकारी/कर्मचारी की समय से उपस्थिति होनी सुनिश्चित की जाए। लेटलतीफी कतई स्वीकार नहीं की जाएगी। वरिष्ठ अधिकारी द्वारा सतत औचक निरीक्षण किया जाए। लापरवाह, लेटलतीफ अधिकारियों/कर्मचारियों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जाए।

मिशन 2024 : दो साल के खास एजेंडे पर काम करेगी योगी सरकार, महिलाओं से जुड़े मुद्दे और रोजगार पर विशेष फोकस

नियमविरुद्ध संचालित अथवा अधोमानक नर्सिंग कॉलेजों को चिन्हित कर इनके संचालकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर कठोरतम कार्रवाई की जाए। बिना मान्यता के कॉलेज संचालन युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ करना है। ऐसी हर जानकारी/शिकायत को पूरी गंभीरता से लेते हुए तत्परता से कार्रवाई की जाए।

क्रय केंद्रों का निरीक्षण किया जाए

गेहूं खरीद सुचारू रूप से जारी रहे, इसके लिए क्रय केंद्रों का निरीक्षण किया जाए। गेहूं के भंडारण की अच्छी व्यवस्था हो। क्रय केंद्रों पर बोरों की पर्याप्त उपलब्धता बनी रहे। हर किसान को न्यूनतम समर्थन मूल्य का लाभ मिले। प्रत्येक दशा में किसान को उसके गेहूं का भुगतान तय समय-सीमा के भीतर हो जाना चाहिए।

कानपुर देहात में दर्दनाक सड़क हादसा : 3 किसानों की मौत, 5 लोग घायल, सीएम योगी ने जताया दुख

15 करोड़ गरीब जनता के सुचारु भरण-पोषण के लिए प्रदेश सरकार मुफ्त राशन उपलब्ध करा रही है। केंद्र सरकार की ओर से भी मुफ्त राशन दिया जा रहा है। राशन के अतिरिक्त दाल, नमक और खाद्य तेल भी दिया जा रहा है। अंत्योदय कार्ड धारकों को चीनी भी मुफ्त दी जा रही है। व्यापक जनहित की यह योजना सुव्यवस्थित रूप से चलती रहे, इसके लिए वितरण सामग्री की उपलब्धता, वितरण प्रणाली आदि की नियमित अंतराल पर समीक्षा की जाती रहे।

आमजन की शिकायतों का त्वरित संज्ञान लेते हुए निस्तारण किया जाए। हर कार्यालय में सिटीजन चार्टर को प्रभावी रूप से लागू किया जाए। किसी भी कार्यालय में कोई फाइल तीन दिनों से अधिक लंबित न रहे। देरी होने पर जवाबदेही तय की जाए।

MLC चुनाव में प्रचंड जीत ने स्पष्ट कर दिया कि पीएम मोदी के नेतृत्व में प्रदेश की जनता विकास और सुशासन के साथ है : CM योगी

Check Also

वाराणसी: आदि विश्वेश्वर की पूजा अर्चना के दाखिल अर्जेंट वाद पर सुनवाई आज

आदि विश्वेश्वर की पूजा अर्चना के लिए दाखिल अर्जेंट वाद पर रविवार यानी आज सिविल …