Monday , May 27 2024

एयर इंडिया ने दिल्ली से मॉस्को की अपनी उड़ानों पर लगाई रोक

नई दिल्ली। एयर इंडिया ने दिल्ली से मॉस्को की अपनी उड़ानों पर रोक लगा दी है. पहले से तय उड़ानों को रद्द कर दिया है. सूत्रों के अनुसार एयर इंडिया ने रशियन एम्बेसी से कहा है कि वो कैंसिल की गई उड़ानों के यात्रियों को पूरा रिफंड करेगा.

अखिलेश जी आपके पास आतंकियों की सूची है तो उसे योगी जी तक पहुंचाए : स्वतंत्र देव सिंह

रूस के आसमान और उसके आस पास में हो रही गतिविधियों के कारण वहाँ यात्रियों पर ख़तरा बना हुआ है. पर सवाल ये उठता है कि ये ख़तरा तो पिछले एक महीने से बना हुआ था पर उड़ानों को अब अचानक से क्यों रोका गया. तो इसका कारण है अंतरराष्ट्रीय इंश्योरेंस एजेंसियों का आकलन.

इंश्योरेंस न मिलने के कारण रोकी गई उड़ानें

रशियन स्काई में थ्रेट परसेप्शन को देखते हुए इंटरनेशनल इंश्योरेंस एजेंसियों से मॉस्को जाने या वहाँ से आने वाली उड़ानों पर इंश्योरेंस देने से मना कर दिया है इसीलिए एयर इंडिया ने अपनी मॉस्को उड़ानों को रोक दिया है.

श्रीलंका आर्थिक संकट: राष्ट्रपति राजपक्षे के खिलाफ उठ रही है आवाज, स्पीकर बोले- आएगी भुखमरी की नौबत

मॉस्को के लिए एयर इंडिया हफ़्ते में दो उड़ानें चलाता है

अब तक एयर इंडिया की हफ़्ते में दो उड़ाने दिल्ली से मॉस्को जा रही थीं. एयर इंडिया ने रशियन एंबेसी को सूचित किया है कि वो सभी यात्रियों को उनके टिकट का रिफंड देगा.

मॉस्को जाने के लिए उपलब्ध हैं ट्रांज़िट रूट्स

मौजूदा हालात में मॉस्को जाने के लिए ट्रैंज़िट रूट्स का इस्तेमाल किया जा सकता है इसके लिए यात्रियों को ताशकंद, इस्तांबुल, दुबई, अबु धाबी, दोहा व अन्य देशों से होकर मॉस्को और दिल्ली के बीच यात्रा करनी होगी.

यूक्रेन में जंग से हालात भयावह

जंग के बीच यूक्रेन में आम लोगों में दहशत का माहौल है. यूक्रेन के लोग बचने के लिए बंकरों में घुसे हुए हैं. रूस के हमले के बाद यूक्रेन में चारों तरफ बर्बादी का मंजर है. इस बीच यूक्रेन सरकार ने रूस पर नरसंहार का आरोप लगाया है.

ACS होम अवनीश अवस्थी ने सी.बी.सी.आई.डी. मुख्यालय का किया निरीक्षण, कार्यो में हुई प्रगति की समीक्षा

वहीं क्रेमलिन ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि रूसी सेना कभी भी आम नागरिकों को टारगेट नहीं करती है. रूस के संयुक्त राष्ट्र के राजदूत वसीली नेबेंजिया ने मंगलवार को सुरक्षा परिषद को बताया कि दुर्व्यवहार के आरोप झूठ थे. उन्होंने कहा कि जब बुका रूसी नियंत्रण में था तो एक भी नागरिक के साथ हिंसा नहीं की गई थी.

Check Also

सिंगापुर एयरलाइंस के विमान ने 62 सेकेंड तक झेली थी टर्बुलेंस

फ्लाइटरडार24 के आंकड़ों के अनुसार, पहले विमान 1664 फीट प्रति मिनट की दर या 507 …