Friday , May 24 2024

मुख्यमंत्री योगी के करीबी रहे एमएलसी यशवंत सिंह भाजपा से 6 साल के लिए निष्कासित

आजमगढ़। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के करीबी रहे एमएलसी यशवंत सिंह भाजपा से निष्कासित हो गए है। आजमगढ़ मऊ स्थानीय निकाय प्राधिकारी क्षेत्र से भाजपा के अधिकृत प्रत्याशी अरुण कुमार यादव के विरुद्ध अपने बेटे विकात सिंह उर्फ रिशू को चुनाव लड़ाना भाजपा एमएलसी यशवंत सिंह को भारी पड़ गया।

शिवपाल यादव के भाजपा में जाने का एक और संकेत… इस ट्वीट से फिर चढ़ा सियासी पारा

छह वर्ष के लिए निष्कासित

संठगन ने यशवंत सिंह को छह वर्ष के लिए निष्कासित कर दिया है। इस लिहाज से पूर्वांचल में भाजपा की ओर से यह बड़ी कार्रवाई मानी जा रही है।

एमएलसी यशवंत सिंह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खास माने जाते रहे हैं. लेकिन एमएलसी चुनाव में भाजपा ने फूलपुर के पूर्व विधायक अरुण कुमार यादव को अपना अधिकृत प्रत्याशी बनाया, तो यशवंत सिंह के पुत्र विक्रांत सिंह रिशु ने निर्दल पर्चा दाखिल कर दिया।

गोरखपुर मंदिर हमला : यूपी सरकार ने घटना की जांच को एटीएस के हवाले किया, टेरर लिंक से इनकार नहीं

शुरुआत में लगा कि विक्रांत पर्चा वापस ले लेंगे, लेकिन ऐसा हो नहीं सका। अलबत्ता चुनाव में ताकत झोकी जाने लगी. जिसके बाद भाजपा संगठन की ओर से एमएलसी यशवत सिंह के खिलाफ कार्रवाई की आशंका जताई जाने लगी थी।

Check Also

लोकसभा चुनाव: पूर्वांचल में सीएम-पूर्व सीएम के हवाले प्रचार…

छठे चरण में पूर्वांचल की पांच सीटों पर 25 मई को वोट पड़ेंगे। गुरुवार को …