Thursday , August 10 2023

Corona in UP: फिर कहर बरपा रहा ‘कोरोना’, 24 घंटे में 11,089 नए मामले, 5 की मौत

लखनऊ. देश में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन की दहशत के बीच कोरोना के तेजी बढ़ते मामले अब डराने लगे हैं।  उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोनावायरस के 11,089 नए मामले सामने आए हैं, जबकि  543 लोग डिस्चार्ज हुए. वहीं इस 5 संक्रमित मरीजों की मौत हो गई है.

यूपी में  44,466 केस एक्टिव

यूपी में कोविड सक्रिय मामलों की संख्या 44,466 बताई जा रही है. उत्तर प्रदेश अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद राज्य में कोरोना की हालात पर जानकारी देते हुए बताया कि कल यानि कि सोमवार को प्रदेश में 2,05,309 सैंपल की जांच की गई और अब तक कुल 9,50,58,609 सैंपल की जांच की जा चुकी है.

अखिलेश यादव का योगी सरकार पर हमला : भाजपा ने किसान और नौजवान को धोखा दिया

अपर मुख्य सचिव प्रसाद ने आगे बताया कि सोमवार को उत्तर प्रदेश में  19,86,522 लोगों को वैक्सीन की डोज लगीहै. इनमें 5,00,140 डोज 15-18 साल के बच्चों को लगाई गई हैं. 18 साल से अधिक उम्र के लोगों में अब तक 13,29,81,915 लोगों को पहली डोज दी गई और ये कुल योग्य आबादी का 90.2% है.

लगभग 60 हजार लोगों को दी गई प्रीकॉशन डोज

अमित मोहन प्रसाद द्वारा उपलब्ध जानकारी के अनुसार, 13,29,81,915 लोगों में से कल तक 7,99,78,343 लोगों ने दूसरी डोज ली. 18 साल से अधिक उम्र वर्ग में अब तक कुल 21,29,60,258 डोज लगाई जा चुकी हैं. 15-18 साल के बच्चों में अब तक 29,40,921 बच्चों को पहली डोज लगाई गई हैं.  वहीं कल प्रदेश में 59,996 लोगों ने प्रीकॉशन डोज ली है.

Makar Sankranti : कोरोना के चलते मकर संक्रांति पर हरिद्वार में गंगा स्नान नहीं कर पाएंगे श्रद्धालु

90.20 प्रत‍िशत लोगों को लगी पहली डोज

यूपी में 18 साल के ऊपर के 90.20 प्रत‍िशत लोगों में कोरोना के टीकाकरण की पहली खुराक दी जा चुकी है। वहीं 54.25 प्रत‍िशत लोगों को कोरोना की दोनों डोज लग चुकी है। वहीं, 59,996 वरिष्ठ नागरिकों को अब तक एहतियातन बूस्टर खुराक दी गई है। सोमवार तक 15-18 श्रेणी में 2,940,921 टीकाकरण किया गया।

यूपी में ओमिक्रॉन मरीजों की संख्या बढ़कर 275

देश में ओमिक्रॉन मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है. यूपी में ओमिक्रॉन मरीजों की संख्या बढ़कर 275 हो गई है. देश में ओमिक्रॉन मरीजों की संख्या में UP छठे नंबर पर आ गया है.

लता मंगेशकर कोरोना पॉजिटिव, मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल के ICU में भर्ती

होम आइसोलेशन में ठीक हो रहे हैं मरीज

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि इस बार कोरोना के मरीजों को कम ही अस्पताल में भर्ती होने की नौबत आ रही है. ज्यादातर संक्रमित लोग होम आइसोलेशन में ही ठीक हो रहे हैं. अधिकारी ने लोगों से अपील करते हुए कहा, आप कोरोना पॉजिटिव पाए जाते हैं तो ई-संजीवनी पोर्टल के माध्यम से घर बैठे ही डॉक्टरों की सलाह ले सकते हैं. साथ ही राज्य सरकार के कोविड हेल्पलाइन नंबर 18001805145 पर भी संपर्क कर सकते हैं.

Check Also

योगी सरकार नगर पंचायतों में स्थाई अधिशासी अधिकारियों की तैनाती कराने जा रही

राज्य सरकार नगर पंचायतों में स्थाई अधिशासी अधिकारियों (ईओ) की तैनाती कराने जा रही है। …