Sunday , June 16 2024

मुरादाबाद में गरजे अमित शाह : सपा-बसपा पर साधा निशाना, अखिलेश के NIZAM का बताया मतलब ?

मुरादाबाद। यूपी चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दल जनसभा कर लोगों से वोट देने की अपील कर रहे है। वहीं केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी मुरादाबाद में चुनावी रैली को संबोधित किया और विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। शाह ने अखिलेश यादव का नाम लेकर कहा कि, इनका तो एजेंडा ही लूट, आतंकवाद और जिन्ना है। वेस्ट यूपी गन्ने के लिए पहचाना जाता है, लेकिन अखिलेश यादव गन्ना की जगह जिन्ना-जिन्ना करते घूम रहे हैं।

बॉलीवुड एक्ट्रेस नोरा फतेही कोरोना वायरस से संक्रमित, डॉक्टरों की निगरानी में हैं क्वारंटीन

सपा के लिए L का अर्थ लूट है

शाह ने कहा कि, सपा के लिए L का अर्थ लूट है। इनकी सरकार थी तो इन्होंने जमकर लूटा और जेबें भरीं। A का मतलब आतंकवाद बताते हुए अमित शाह ने पब्लिक से पूछा कि, पड़ोस के जिले में रहने वाले आजम खां को तो आप जानते ही होंगे? बबुआ पाकिस्तान जाकर दफन हो चुके जिन्ना का नाम रट रहे हैं।

शाह ने बताया निजाम का अर्थ

शाह ने लोगों से पूछा कि, NIZAM चाहिए या योगी-मोदी का विकास? उन्होंने इसके मायने भी बताए। कहा कि, N का मतलब नसीमुद्दीन, I मतलब इमरान मसूद, ZA मतलब आजम खान और M का मतलब मुख्तार अंसारी है।

उत्तराखंड को न्यू ईयर का तोहफा : पीएम मोदी ने हल्द्वानी में 17,500 करोड़ रुपये की 23 परियोजनाओं का उद्घाटन, विपक्ष पर बोला हमला

क्या आप चाहते हैं आजम जेल से बाहर आएं?

अमित शाह ने कहा कि, आजम खां ने एक हजार हेक्टेयर जमीन पर कब्जा कर लिया था। आप बताओ आज वो कहां हैं? शाह ने तीन बार पब्लिक से जवाब पूछा। सामने से जवाब आया कि जेल में हैं तो शाह ने अगला सवाल दाग दिया। सपा की सरकार आएगी तो वो जेल में रहेंगे क्या? क्या आप चाहते हैं कि वो जेल से बाहर आएं। लोगों ने न में जवाब दिया तो शाह बोले- फिर आपको एक काम करना है। पूर्ण बहुमत के साथ फिर से प्रदेश में भाजपा की सरकार बनवानी है।

बुआ, बबुआ और बहना तीनों मिलकर भी नहीं हरा सकते

अमित शाह ने कहा कि, बुआ, बबुआ और बहना (प्रियंका गांधी) तीनों मिलकर भी भाजपा के कार्यकर्ताओं को नहीं हरा सकते। उन्होंने तीन बार भीड़ की तरफ सवाल दागा, आप समझ रहे हैं न मैंने बहना किसको कहा है। इसके बाद अमित शाह बोले कि आप पहले वाली गलती नहीं करना। मुरादाबाद के लोगों को इस बार अपना वोट इकतरफा करके भाजपा के सभी विधायकों को जिताना है। बता दें कि 2017 में भाजपा मुरादाबाद जिले में 6 में से सिर्फ 2 सीटें ही जीत सकी थी।

पीयूष जैन ने कोर्ट से वापस मांगा जब्त खजाना, कहा- टैक्स-जुर्माने के 52 करोड़ काटो और बाकी दो

बहनजी चुनाव आ गया है बाहर आइए

अमित शाह ने बसपा सुप्रीमो मायावती पर भी तंज कसा। चुटकी लेते हुए बोले- बहनजी की तो ठंड ही अभी दूर नहीं हो रही है। बोले- बहन जी चुनाव आ गए हैं। घर से बाहर आइए। फिर मत कहिएगा प्रचार भी करने का मौका नहीं मिला।

Check Also

बरेली: पुराने शहर की 13 व्यावसायिक इमारतें बीडीए के रडार पर

बरेली में करीब चार से पांच बड़े कांप्लेक्स समेत स्कूल, मैरिज हॉल व व्यावसायिक बिल्डिंगों …