Saturday , May 25 2024

अपराधियों में लखनऊ के पुलिस कमिश्नर डी के ठाकुर की दहशत, अपराधी खुद आते हैं आत्मसमर्पण करने

यूपी की योगी सरकार ने माफियाओं के खिलाफ जो अभियान चलाया है, उसके अच्छे नतीजे दिखने लगे हैं। सीएम योगी के निर्देशों के तहत लखनऊ के पुलिस कमिश्नर डी के ठाकुर ने भी अपराधियों के खिलाफ जोरदार मुहिम चला रखी है। इसी का नतीजा है कि राजधानी लखनऊ में पुलिस का खौफ बरकरार है। ताज़ा मामला आज लखनऊ का है जहां पुलिस के डर से दूसरे थाने में कत्ल के आरोपी ने सरेंडर कर दिया।

पुलिस को पता लगा है कि प्रेमिका ने ही रची थी रजनीश के कत्ल की साजिश।  छुटकारा पाने के लिए युवती ने प्रेमी को घर बुलाकर भाई और पिता के साथ उतारा था मौत के घाट। पुलिस के मुताबिक पारा के सलेमपुर पतौरा गांव के रहने वाले रजनीश यादव की हत्या के मामले में पुलिस ने उसकी परिचित युवती समेत तीन लोगों को पकड़ा है। छानबीन में सामने आया है कि रजनीश की हत्या उसकी करीबी युवती ने अपने चचेरे व नाबालिग भाई के साथ मिलकर की थी। हत्याकांड में युवती के पिता भी शामिल थे। पुलिस ने युवती व उसके दोनों भाइयों को आगरा एक्सप्रेसवे के जीरो प्वाइंट के पास से पकड़ा है। वहीं, युवती के पिता ने गाजीपुर थाने में आत्मसमर्पण कर दिया। पुलिस ने नाबालिग को बाल सुधार गृह भेजा है। पारा इंस्पेक्टर राजेश कुमार के मुताबिक रजनीश का सूरजकुंडन खेड़ा में रहने वाले प्रवेश की बेटी नैना से प्रेम प्रसंग था।

Check Also

मुरादाबाद: किशोरी को घर में अकेली देख ले गए साथ, एक ने किया दुष्कर्म, दूसरे ने बनाई वीडियो…

मझोला थाना क्षेत्र में किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना सामने आ रही है। …