Tuesday , July 16 2024

जेवर एयरपोर्ट बनाकर बीजेपी पूरा करेगी 25 साल पुराना सपना, सीएम योगी ने पीएम के कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लिया, बोले एक लाख लोगों को मिलेगा रोजगार

प्रधानमंत्री मनमोन सिंह 25 नवंबर को गौतमबुद्ध नगर जिले के जेवर में बन रहे नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का शिलान्यास करने आएंगे। शिलान्यास की तैयारियों का जायजा लेने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ पहले ही पहुंच गए हैं। नोएडा में पत्रकारों से बात करते हुए सीएम योगी ने कहा कि यूपी ने 25 साल पहले इस एयरपोर्ट का सपना देखा, जो अब बीजेपी सरकार पूरा करने जा रही है।

योगी ने कहा कि जेवर हवाई अड्डा गौतमबुद्ध नगर, अलीगढ़, आगरा और पूरे पश्चिमी उत्तर प्रदेश समेत समूचे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के लिए विकास के अच्छेअवसर लेकर आ रहा है।

उन्होंने कहा कि 25 साल पहले से यूपी में एयरपोर्ट बनाने की बात चल रही थी, लेकिन किसी न किसी कारण मामला आगे नहीं बढ़ पाया था। अब भारतीय जनता पार्टी की सरकार इस सपने को पूरा करने जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस क्षेत्र के लोगों का भी यह बहुत पुराना सपना था कि यहां हवाई अड्डा बने और विकास में चार चांद लगें लेकिन जमीनी स्तर पर किसी भी सरकार ने इस पर कार्य नहीं किया।

योगी ने कहा कि पहले चरण में करीब 10,000 करोड़ रुपये का निवेश यहां पर आ सकता है और जेवर हवाई अड्डा बनने से नोएडा तथा ग्रेटर नोएडा समेत पूरे जिले में करीब 34 से 35 हजार करोड़ रुपये तक का निवेश आएगा, जिससे एक लाख लोगों को रोजगार मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत सरकार का इस परियोजना में पूरा सहयोग मिल रहा है और 2024 तक जेवर हवाई अड्डा बनकर तैयार हो जाएगा तथा उसके बाद यह उत्तर प्रदेश का पांचवा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा होगा.

इससे पहले मुख्यमंत्री को पूरी तैयारियों का एक अंतिम ड्राफ्ट दिखाया गया। उन्हें प्रधानमंत्री के मंच के अलावा अन्य मंच, आम जनता के बैठने के स्थान, प्रधानमंत्री के उतरने के लिए हेलीपैड, आम लोगों के आने जाने के रास्ते, प्रदूषण से बचाव और आपातकालीन स्थिति के प्लान की जानकारी दी गई। इस दौरान उन्होंने कार्यक्रम को लेकर कई जरूरी दिशानिर्देश दिए।

कार्यक्रम स्थल पर ड्रोन, बम निरोधक देस्ता आदि के जरिये जांच कर सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद की जाएगी। सभा स्थल पर बड़ी संख्या में लोगों के आने की संभावना है। सभी को सघन चेकिंग के बाद ही प्रवेश दिया जाएगा। प्रतिबंधित वस्तुुओं के अलावा काले रंगे के कपड़े आदि पर भी रोक लग सकती है।

Check Also

सैन्य इतिहास में पहली बार दो क्लासमेट संभालेंगे थल और नौसेना की कमान

लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी रविवार को थलसेना प्रमुख के रूप में कार्यभार संभालेंगे। लेफ्टिनेंट जनरल …