Saturday , July 13 2024

UP : सीएम योगी ने 7 मंजिला विशिष्ट अतिथि गृह का किया लोकार्पण, बोले- अब होटलों में नहीं ठहरेंगे मेहमान

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को लखनऊ में अति विशिष्ट अतिथियों के प्रवास हेतु अति विशिष्ट गृह नैमिषारण्य का लोकार्पण किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि यह राज्य सरकार के लिए एक उपलब्धि है।

अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त होगा गेस्ट हाऊस

अभी तक राज्य सरकार के मेहमानों को होटल में ठहराना पड़ता था पर अब उनके लिए अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त गेस्ट हाऊस उपलब्ध होगा।

केंद्रीय कर्मचारियों को दिवाली से पहले बड़ी सौगात, कैबिनेट बैठक में 3% DA बढ़ाने का फैसला

सात मंजिला भवन में 73 कमरे बनाये गए हैं

नैमिषारण्य शब्द का महत्व बताते हुए उन्होंने कहा कि, यह नाम मां ललीता देवी से जुड़ा हुआ है। यहां नैमिषारण्य का चित्र भी लगाया जाना चाहिए। सात मंजिला भवन में 73 कमरे बनाये गए हैं। प्रदेश में पहले से 9 अतिथि गृह संचालित हैं।

गेस्ट हाउस का नाम धर्म व संस्कृति से जुड़ा हुआ है

यूपी देश की आध्यात्मिक ऊर्जा का केंद्र है। पहचान के अनुरूप गेस्ट हाउस का नाम भी धर्म व संस्कृति से जुड़ा हुआ रखा गया है। इन नामों से प्रदेश को पहचान मिलती है।

Corona Vaccination: 100 करोड़ टीकाकरण पार करने पर भारत को बधाई, जानिए क्या बोले पीएम मोदी

गेस्ट हाउस में धर्मिक स्थल की अनुभूति हो। यह जनप्रतिनिधियों के लिए एक उपलब्धि है। नागरिक को बताने का अवसर है कि उन्होंने क्या कराया है।

सरकार ने विभिन्न तीर्थों में भी अतिथि गृह बनाए है

उन्होंने कहा कि, यह राज्य सम्पति विभाग को देखना होगा कि भवन का रखरखाव अच्छा हो। सरकार तो पैसा लगा सकती है। देखरेख का काम विभाग को करना है। प्रदेश सरकार ने विभिन्न तीर्थों में भी अतिथि गृह बनाए हैं।

Covid-19 Vaccination: देश ने रचा नया इतिहास, वैक्सीन की 100 करोड़ डोज़ का आंकड़ा पार

कार्यक्रम में ये लोग रहे मौजूद

इस मौके पर कार्यक्रम में कैबिनेट मंत्री महेंद्र सिंह, कैबिनेट मंत्री ब्रजेश पाठक, कैबिनेट मंत्री आशुतोष टंडन गोपाल, महापौर संयुक्ता भाटिया, मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी, एसीएस नवनीत सहगल भी मौजूद थे।

पांच सितारा होटल से बेहतर बनाया गया है

विधि एवं न्याय मंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि अतिथि गृह को पांच सितारा होटल से बेहतर बनाया गया है। नैमिषारण्य का नाम देने का निर्णय अच्छा है। नैमिषारण्य से धर्म व संस्कृति का संदेश दुनिया में जाता है। हम प्रदेश को फिर ऐसी सरकार देंगे जिसे दुनिया देखेगी।

Aryan Khan Drugs Case: अदालत ने आर्यन खान की न्यायिक हिरासत 30 अक्टूबर तक बढ़ाई

मुख्य सचिव राजेंद्र तिवारी ने कहा कि, हमारे भवन आधुनिक सुविधा से युक्त हैं। रखरखाव की व्यवस्था से धारणा बदली है। अतिथि गृह से ही बाहर से आए मेहमानों की प्रदेश के बारे में धारणा बनती है।

भोजन की व्यवस्था आउटसोर्स की गई है

अतिथि गृह को धर्म एवं संस्कृति विभाग से जोड़ा गया है। भोजन की व्यवस्था आउटसोर्स की गई है। भवन का रखरखाव भी बेहतर किया जाएगा।

Aryan Khan Drugs Case: जानें क्यों शाहरुख खान के घर ‘मन्नत’ पहुंची थी NCB की टीम?

नगर विकास मंत्री आशुतोष टन्डन ने कहा कि इस अतिथि गृह की बड़ी आवश्यकता थी। मीटिंग और सेमिनार का आयोजन होटल में करना पड़ता था। अतिथि गृह उपयोगी साबित होगा।

Check Also

यूपी: राहत के साथ आफत भी लेकर आई बारिश, बिजली गिरने से चार की मौत

पूरे यूपी में करीब-करीब मानसून छा गया है। लगातार बारिश होने से प्रदेश के ज्यादातर …