Saturday , June 22 2024

पीलीभीत में 50 साल में पहली बार इतनी भयानक बाढ़ : उफान पर शारदा नदी, एअरलिफ्ट कर निकाले जा रहे लोग

पीलीभीत। उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में बीते 2 दिन से हो रही लगातार बारिश के बाद शारदा नदी में बनबसा बैराज से पानी छोड़ा गया है। जिसके बाद 12 गांवों में नदी का पानी घुस गया है।

यूपी को बड़ी सौगात, जानिए कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के उद्घाटन पर क्या बोले पीएम मोदी

लोगों को एयरलिफ्ट करके निकाला जा रहा

लोगों को पानी से बचाने के लिए एयरलिफ्ट करके बाहर निकाला जा रहा है। सुबह से ही गांवों में राहत कार्य शुरू कर दिया गया है।

बनबसा बैराज से शारदा नदी में पानी छोड़ा गया

रविवार से ही पीलीभीत में मूसलाधार बारिश हो रही थी। जिसके कारण हर जगह जलभराव की स्थिति पैदा हो गई थी। मंगलवार को बनबसा बैराज से शारदा नदी में 547000 क्यूसेक पानी छोड़ा गया।

कुशीनगर : पीएम मोदी ने इंटरनेशनल एयरपोर्ट का किया उद्घाटन

उफान पर शारदा नदी

50 साल के इतिहास में यह पहली बार था कि, नदी में इतनी बड़ी मात्रा में पानी छोड़ा गया हो। भारी मात्रा में पानी छोड़े जाने से शारदा नदी में उफान आ गया।

UP Election : प्रियंका गांधी का ऐलान, यूपी विधानसभा चुनाव में 40% टिकट महिलाओं को देगी कांग्रेस

कई गांवों में घरों में पानी घुसा

नदी किनारे बसे गांवों को नदी के कहर से बचाने के लिए बने मार्जनल बांध को भी नदी ने अपनी चपेट में लेकर तोड़ दिया। जिसके बाद गाभिया और राम नगर जैसे कई गांवों में घरों में पानी घुस गया।

लोगों ने कहा-प्रशासन चाहता तो ये स्थिति पैदा नहीं होती

नागरिकों ने कहा कि, प्रशासन चाहता तो समय रहते बचाव कार्य किया जा सकता था, लेकिन प्रशासनिक अधिकारियों ने कोई मदद नहीं की। जिसके कारण अब लोग बेघर हो गए हैं। खाने-पीने और रहने जैसी तमाम समस्याओं से हम लोगों को जूझना पड़ रहा है।

लगातार टीमें कर रही हैं काम

शारदा नदी में उफान के कारण चपेट में आए कई गांवों में बाढ़ जैसे हालात हैं। सूचना मिलने के बाद जिला अधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस फोर्स और प्रशासनिक अधिकारी गांव में राहत कार्य में जुटे हैं।

शाहजहांपुर में वकील की हत्या का मामला : यूपी बार काउंसिल ने की ये मांग, पीड़ित परिवार को मिले 50 लाख की आर्थिक मदद

लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाना प्रशासन की जिम्मेदारी

जिलाधिकारी पुलकित खरे का कहना है कि, लोगों को खाने पीने की चीजे पहुंचाई जा रही है। लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाना प्रशासन की जिम्मेदारी है। इसके लिए लगातार टीमें काम कर रही हैं।

पीलीभीत के हजारा थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली कंबोज नगर चौकी में भी बाढ़ का पानी भर गया। बाढ़ की चपेट में आने से चौकी के अंदर 4 फीट तक पानी भर गया। जिले भर में कई स्थानों पर जलभराव की स्थिति है।

बारिश से तबाही : सीएम धामी ने प्रभावित इलाकों का किया हवाई दौरा, शाम तक उत्तराखंड पहुंचेंगे गृहमंत्री अमित शाह

Check Also

वाराणसी: सपा मुक्त हुई नगर निगम की कार्यकारिणी

वाराणसी नगर निगम की कार्यकारिणी से छह सदस्यों को बाहर किया गया है। इनमें लॉटरी …