Friday , May 24 2024

जीणधाम पहुंचे सांसद वरूण गांधी ने की मां जीण भवानी की पूजा, सियासी गलियारों में चर्चाएं हुई तेज

सीकर। पीलीभीत से भाजपा सांसद वरूण गांधी मंगलवार को अचानक सीकर जिले के जीणमाता धाम पहुंचे। जहां उन्होंने मां जीण भवानी की पूजा अर्चना की।

रामनगरी अयोध्या पहुंचे संघ प्रमुख मोहन भागवत, कल करेंगे रामलला और बजरंगबली के दर्शन

सुबह करीब साढ़े 11 बजे अपने तीन साथियों सहित शक्तिपीठ जीणधाम पहुंचे सांसद वरूण को भवानीशंकर व मुकेश पुजारी ने पूजा अर्चना करा कर दुपट्टा ओढ़ाया।

भंवर माता और हर्षनाथ भैरव के दर्शन किए

इस दौरान उन्होंने विशेष संकल्प के लिए चढ़ाया जाने वाला नारियल माता को अर्पित किया। उन्होंने मंदिर परिसर में बने भंवर माता व हर्षनाथ भैरव की भी दर्शन किए।

बारिश से हाहाकार : कुमाऊं में बाढ़ जैसे हालात, रामगढ़ में फटा बादल, अलग-अलग जगहों पर कई लोगों की मौत

मीडिया से किया किनारा

सांसद वरुण गांधी इस दौरान मीडिया से बचते नजर आए। गांधी के जीण माता मंदिर पहुंचते ही उनके निजी सुरक्षा कर्मियों ने सभी को फोटो खींचने से मना कर दिया। फोटो खींच रहे मीडियाकर्मियों व अन्य लोगों को खुद वरूण गांधी ने भी इन्कार कर दिया। जब उन्हे मीडिया के पहुंचने की भनक लगी तो वे लगी तो तुरंत गाड़ी में बैठ कर 10 मिनट में ही मंदिर से रवाना हो गए।

सियासी गलियारों में चर्चाएं

सांसद वरूण गांधी के अचानक जीण माता दरबार में पहुंचकर पूजा- अर्चना करने व संकल्प का नारियल चढ़ाने पर सियासी गलियारों में चर्चाएं तेज हो गई है। गुपचुप में आकर पूजा कर मनौती मांगने को लेकर अलग अलग बातें शुरू हो गई है।

शरद पूर्णिमा : भगवान श्रीकृष्ण ने की थी महारासलीला, इस दिन चंद्रमा से बरसता है अमृत

माता का प्रतीक चिन्ह किया भेंट

वरुण गांधी मंदिर से जल्दी निकलना चाह रहे थे। लेकिन, मंदिर के पुजारियों ने उनसे ट्रस्ट कार्यालय पहुंचने का विशेष आग्रह किया। इस पर गांधी मंदिर ट्रस्ट के कार्यालय पहुंचे। जहां जीणमाता मंदिर के मधुसुदन पुजारी, नंदकिशोर पुजारी, भगवती प्रसाद, जुगल पुजारी, विनोद पुजारी, रिछपालसिंह चौहान ने उन्हे माता का प्रतीक चिन्ह भेंट किया। इस दौरान नंदकिशोर महाराज लाल बाबा भी उपस्थित रहे।

देखने वालों की लगी भीड़

जीणमाता मंदिर में वरुण गांधी की पहुंचने की सूचना जीणमाता में जल्द ही आग की तरह फैल गई। ऐसे में कई लोग उन्हें देखने के लिए मंदिर पहुंचने लगे। हालांकि गांधी के जल्दी मंदिर से निकलने पर उन्हें देखने के कई लोगों के अरमान अधूरे रह गए।

दिग्गज नेता सुखदेव राजभर का निधन, सीएम योगी और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने जताया दुख

Check Also

लोकसभा चुनाव: पूर्वांचल में सीएम-पूर्व सीएम के हवाले प्रचार…

छठे चरण में पूर्वांचल की पांच सीटों पर 25 मई को वोट पड़ेंगे। गुरुवार को …