Tuesday , July 16 2024

उत्तराखंड चारधाम यात्रा : 20 नवंबर से शीतकाल के लिए बंद होंगे बदरीनाथ धाम के कपाट

चमोली। आज विजयदशमी के खास मौके पर श्री बद्रीनाथ धाम के कपाट बंद होने की तारीख का ऐलान कर दिया गया है.

20 नवंबर को बंद होंगे कपाट

20 नवंबर से शीतकाल के लिए शाम 6 बजकर 45 मिनट से बद्रीनाथ के कपाट बंद कर दिए जाएंगे. बद्रीनाथ धाम के कपाट बंद करने का एलान शुक्रवार दशहरा के दिन की गई है.

Lucknow : ऐशबाग में रावण दहन की तैयारियां पूरी, शाम 8 बजे किया जाएगा रावण दहन

इसका ऐलान करते हुए उत्तराखंड चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के मीडिया प्रभारी डॉ. हरीश गौड़ ने कहा कि, आज विजयदशमी के अवसर पर भगवान बद्रीनाथ धाम के कपाट बंद होने के तिथि को घोषित कर दिया गया है.

गंगोत्री 5 तो केदारनाथ और यमुनोत्री के कपाट होंगे 6 तारीख को बंद

बद्रीनाथ के अलावा चार धाम यात्रा में शामिल केदारनाथ मंदिर के कपाट भी भैया दूज के अवसर पर छह नवंबर को बंद कर दिए जाएंगे.

जागरण परिवार के मुखिया योगेन्द्र मोहन गुप्ता का निधन, पत्रकारिता जगत और विज्ञापन की दुनिया के लिए अपूर्णीय क्षति

केदारनाथ के अलावा यमुनोत्री धाम के कपाट को भी छह नवंबर को भैया दूज के के दिन बंद कर दिया जाएगा. इसके अलावा गंगोत्री धाम के कपाट को गोवर्धन पूजा के मौके पर पांच नवंबर को बंद कर दिया जाएगा.

लाखों यात्री कर चुके हैं चार धाम की यात्रा

चार धाम यात्रा में शामिल बद्रीनाथ, केदारनाथ, यमुनोत्री, और गंगोत्री में अब तक लाखों यात्री पहुंचकर दर्शन कर चुके हैं.

UP Election : सूबे की सत्ता में वापसी के लिए चेहरों के जरिए जातियों को साधेगी भाजपा

उत्तराखंड देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के अनुसार गुरुवार तक 1,14,195 तीर्थ यात्रियों ने चार धाम की यात्रा करने का लाभ उठा चुके थे. विश्व प्रसिद्ध चार धाम यात्रा की शुरूआत 18 सितंबर को की गई थी.
इस बार श्रद्धालुओं की संख्या लगातार बढ़ी

इस बार ई-पास व्यवस्था समाप्त होने से चारधाम यात्रा करने आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या लगातार बढ़ी है.

परमबीर सिंह वसूली मामले में आरोपी की तलाश कर रही मुंबई क्राइम ब्रांच

Check Also

उच्च व मध्य हिमालय क्षेत्र में मौजूद तालों की गहराई और क्षेत्रफल की नहीं जानकारी

रुद्रप्रयाग: प्राकृतिक तालों की गहराई और क्षेत्रफल की माप को लेकर अभी तक शासन व …