Friday , June 14 2024

उत्तराखंड में बीजेपी को बड़ा झटका, मंत्री यशपाल आर्य अपने विधायक बेटे संजीव के साथ कांग्रेस में शामिल

देहरादून। अगले साल उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव होना है। लेकिन उससे पहले देवभूमि में बीजेपी को बड़ा झटका लगा है। परिवहन मंत्री यशपाल आर्य और उनके विधायक बेटे संजीव आर्य आज दिल्ली में कांग्रेस में शामिल हो गए हैं।

लखनऊ- ACS होम ने की समीक्षा, अबतक 4 को फांसी, 134 को आजीवन कारावास

दिल्ली में थामा कांग्रेस का दामन

दिल्ली में सुबह 11 बजे इन नेताओं ने कांग्रेस का दामन थाम लिया। राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला और प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव की उपस्थिति में प्रेस कांफ्रेंस करके विधिवत कांग्रेस की सदस्यता ली।

हरीश रावत रहे मौजूद

कांग्रेस चुनाव अभियान अध्यक्ष हरीश रावत भी मौके पर मौजूद रहे। हरीश रावत के दलित सीएम उम्मीदवार की घोषणा से राजनीतिक गलियारे में इसकी सुगबुगाहट तेज हो गई थी।

PM मोदी के गढ़ वाराणसी से प्रियंका गांधी ने भरी हुंकार, कहा- बीजेपी की सरकार न्याय देने में असफल

2007 में यशपाल ने ज्वॉइन की थी भाजपा

समाज कल्याण मंत्री और बाजपुर से विधायक यशपाल आर्य व उने बेटे संजीव आर्य नैनीताल विधानसभा सीट से विधायक है। दोनों ने 2017 में कांग्रेस छोड़ भाजपा का दामन थामा था।

भाजपा सरकार ने यशपाल आर्य को कैबिनेट मंत्री बनाया

तब भाजपा ने दोनों को प्रत्याशी भी बनाया था। दोनों ने जीत दर्ज की थी। इसके बाद भाजपा सरकार ने यशपाल आर्य को कैबिनेट मंत्री बनाया। अब 2022 के विधानसभा चुनाव होने हैं।

Lakhimpur: आशीष मिश्रा को हुई जेल, जानिए किन सवालों में उलझ गया आशीष

इसके लिए राज्य में सियासी घटनाक्रम तेजी से बदल रहे हैं। हालांकि पिता-पुत्र के कांग्रेस में शामिल होने के कार्यक्रम पूरी तरह गोपनीय रखा गया था।

दो कांग्रेसी और एक निदर्लयी भाजपा में हुए हैं शामिल

राज्य में पिछले कुछ समय से दल-बदल का खेल चरम है। गढ़वाल मंडल से कांग्रेस विधायक राजकुमार व प्रीतम सिंह पवार के बाद कुमाऊं मंडल से निर्दलीय विधायक राम सिंह कैड़ा ने भाजपा का दामन थाम लिया है।

Shardiya Navratri 2021: नवरात्रि में मां के नौ रूपों की होती है पूजा, स्त्री के जीवनचक्र को दर्शाते हैं नवदुर्गा के नौ स्वरूप

इस समय कैड़ा भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह समेत बड़े नेताओं से मुलाकात में लगे हुए हैं। जहां भाजपा तमाम विधायकों को अपने पाले में कर राज्य में सियासी माहौल को अपने पक्ष में करने में जुटी है।

Check Also

पौड़ी गढ़वाल: वेडिंग प्वाइंट तक पहुंची जंगल की आग…

एकेश्वर ब्लॉक पौड़ी गढ़वाल में जंगल की आग एक वेडिंग प्वाइंट तक पहुंच गई, जिससे …