Wednesday , June 19 2024

यूपी में सर्वाधिक टीकाकरण : 67 जिलों में नहीं मिला एक भी नया मरीज, 24 घंटे में मिले मात्र 11 नए मरीज

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में एग्रेसिव ट्रेसिंग, टेस्टिंग और त्वरित ट्रीटमेंट के साथ-साथ तेज टीकाकरण की रणनीति कोविड से बचाव में अत्यंत कारगर रही है।

यूपी में सर्वाधिक टीकाकरण

उत्तर प्रदेश एक मात्र राज्य है जहां अब तक 08 करोड़ 01 लाख से अधिक सैम्पल की कोविड जांच हुई है, जबकि कोविड टीकाकरण की पहली डोज प्राप्त करने वालों की संख्या 09 करोड़ से अधिक हो चुकी है।

शारदीय नवरात्र : चैनल हैड बृजमोहन सिंह ने किया सुंदरकांड का आयोजन

यह दोनों ही तथ्य कोविड से लड़ाई में उत्तर प्रदेश की प्रतिबद्धता को दर्शाते हैं। इस कार्य में स्वास्थ्यकर्मियों की भूमिका अत्यंत सराहनीय रही है। आम नागरिकों का सहयोग भी लगातार प्राप्त हो रहा है।

यूपी में दूसरी लहर पर प्रभावी नियंत्रण

नियोजित कोशिशों से कोरोना की दूसरी लहर पर प्रभावी नियंत्रण बना हुआ है। आज 42 जनपदों में एक भी एक्टिव केस नहीं है, जबकि 11 जिलों में एक-एक एक्टिव केस शेष हैं।

यूपी का ये जनादेश…आ रहे हैं अखिलेश, 12 अक्टूबर से सपा की ‘विजय रथ यात्रा’, अखिलेश ने सरकार पर बोला हमला

67 जिलों में संक्रमण का एक भी नया केस नहीं

विगत 24 घंटे में हुई 01 लाख 72 हजार 447 सैम्पल की टेस्टिंग में 67 जिलों में संक्रमण का एक भी नया केस नहीं पाया गया। कुल 11 नए संक्रमित मरीज पाए गए, जबकि 17 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए।

प्रदेश में एक्टिव केस की संख्या 138

वर्तमान में प्रदेश में एक्टिव कोविड केस की संख्या 138 रह गई है, जबकि 16 लाख 86 हजार 904 प्रदेशवासी कोरोना संक्रमण से मुक्त होकर स्वस्थ हो चुके हैं। बेहतर स्थिति बनाये रखने के लिए दूसरे प्रदेशों से आ रहे लोगों की समुचित जांच की जाए।

लखीमपुर खीरी हिंसा में क्यों हो रही है अंकित दास की तलाश, यूपी पुलिस ने कई ठिकानों पर मारा छापा

16 फीसदी से अधिक लोग पूरी तरह टीकाकवर हुए

प्रदेश में अब तक 11 करोड़ 45 लाख से अधिक कोविड वैक्सीन डोज लगाए जा चुके हैं।02 करोड़ 38 लाख से अधिक लोगों ने टीके की दोनों डोज प्राप्त कर ली है। इस प्रकार, 16 फीसदी से अधिक लोग पूरी तरह टीकाकवर प्राप्त कर चुके हैं।

61 फीसदी से अधिक लोगों ने ली पहली डोज

जबकि 61 फीसदी से अधिक लोगों ने कम से कम एक डोज लगवा ली है। दूसरे डोज के लिए पात्र लोगों को समय से टीकाकवर दिया जाए। वैक्सीन की उपलब्धता बनाए रखने के लिए भारत सरकार से सतत संवाद-संपर्क बनाए रखें।

कांशीराम पुण्यतिथि: मायावती बोलीं- सरकार बनी तो बदले की भावना से रोकी नहीं जाएंगी सरकारी योजनाएं

यूपी के ये जिए हुए कोरोना मुक्त

जनपद अमेठी, अमरोहा, अयोध्या, आजमगढ़, बदायूं, बागपत, बलिया, बलरामपुर, बहराइच, बस्ती, भदोही, देवरिया, एटा, इटावा, फतेहपुर, गाजीपुर, गोंडा, हमीरपुर, हापुड़, हरदोई, हाथरस, जालौन, कानपुर देहात, कासगंज, कुशीनगर, लखीमपुर-खीरी, ललितपुर, महराजगंज, महोबा, मऊ, मीरजापुर, मुजफ्फरनगर, पीलीभीत, रायबरेली, रामपुर, संतकबीरनगर, श्रावस्ती, सीतापुर, सोनभद्र, उन्नाव, सुल्तानपुर और वाराणसी में कोविड का एक भी मरीज शेष नहीं है। यह जनपद आज कोविड संक्रमण से मुक्त हैं।

497 ऑक्सीजन प्लान्ट अब तक क्रियाशील हो चुके

मेडिकल आवश्यकताओं के दृष्टिगत ऑक्सीजन उत्पादन में उत्तर प्रदेश आत्मनिर्भर होने की ओर अग्रसर है। कोरोना काल की चुनौतियों के बीच केंद्र व राज्य सरकार के समन्वित प्रयासों से निर्माणाधीन 548 में से 497 ऑक्सीजन प्लान्ट अब तक क्रियाशील हो चुके हैं।

शारदीय नवरात्र : चैनल हेड बृजमोहन सिंह ने किया सुंदरकांड का आयोजन

Check Also

यूपी: उपचुनाव के लिए मजबूत प्रत्याशी तलाश रही बसपा

बसपा के लिए उपचुनाव में अपने प्रत्याशी उतारना मजबूरी बन चुका है, क्योंकि आजाद समाज …