Saturday , July 13 2024

Lucknow: डॉ. जगदीश गाँधी ‘ऑनररी डॉक्टरेट’ की उपाधि से सम्मानित

लखनऊ। यूनाइटेड किंगडम के बेलफास्ट शहर में आयोजित एक भव्य सम्मान समारोह में सी.एम.एस. संस्थापक व डॉ. जगदीश गाँधी को क्वींस यूनिवर्सिटी बेलफास्ट द्वारा ‘डॉक्टरेट की मानद उपाधि’ से सम्मानित किया गया है। डॉ. गांधी की अनुपस्थिति में उनकी पुत्री डॉ. नीता गाँधी ने क्वींस यूनिवर्सिटी की चांसलर व अमेरिका की पूर्व विदेश मंत्री श्रीमती हिलेरी क्लिंटन से यह उपाधि ग्रहण की।

सीएम योगी ने ‘जनता दर्शन’ आए लोगों की सुनी समस्याएं, अधिकारियों को दिए निर्देश

ऑनररी डॉक्टरेट’ की उपाधि से सम्मानित

डा. जगदीश गाँधी से पहले वर्ष 2009 में पूर्व राष्ट्रपति, भारत रत्न व महान वैज्ञानिक डा. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम को एवं वर्ष 2014 में इंफोसिस के संस्थापक श्री एन. आर. नारायन मूर्ति को इस उपाधि से सम्मानित किया जा चुका है। अब वर्ष 2021 में सी.एम.एस. संस्थापक व प्रख्यात शिक्षाविद् डा. जगदीश गांधी को इस उपाधि से नवाजा गया है। डॉ. गाँधी भारत के प्रथम शिक्षाविद् हैं, जिन्हें इस सम्मान से नवाजा गया है।

डा. जगदीश गाँधी एक वैश्विक शिक्षाविद् हैं

इस भव्य समारोह में वैश्विक शिक्षा जगत में डा. गाँधी के योगदान को याद करते हुए कहा गया कि डा. जगदीश गाँधी न सिर्फ एक वैश्विक शिक्षाविद् हैं बल्कि सच्चे अर्थों में एक दृष्टा हैं, जिन्होंने विश्व कल्याण की भावना से वर्ष 1959 में सिटी मोन्टेसरी स्कूल की स्थापना की थी और 5 बच्चों से शुरू होकर आज यह स्कूल 55,000 छात्रों के साथ छात्र संख्या के आधार पर विश्व का सबसे बड़ा विद्यालय है, लेकिन सर्वाधिक महत्वपूर्ण तथ्य यह है कि सी.एम.एस. अपने छात्रों को विश्व नागरिक बना रहा है। विश्व में एकता व शान्ति स्थापना के लिए डा. जगदीश गाँधी ने कई सकारात्मक पहल की है, जिससे स्थानीय, राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर विश्व शान्ति के लिए 28 अन्तर्राष्ट्रीय कार्यक्रम शामिल हैं।‘

अयोध्या की रामलीला में मालिनी अवस्थी निभाएंगी माता शबरी की भूमिका

डॉ कलाम के पदचिन्हों पर चलने का प्रयास

एक अनौपचारिक वार्ता में प्रसन्नता व्यक्त करते हुए डा. गांधी ने कहा कि क्वींस यूनिवर्सिटी द्वारा ‘डॉक्टरेट की मानद उपाधि’ प्रदान किये जाने पर मैं स्वयं को गौरवान्वित अनुभव कर रहा हूँ। दरअसल यह मेरे लिए बड़े सौभाग्य का विषय है। यह उपाधि मुझे डा. कलाम साहब के पदचिन्हों पर चलकर बच्चों की और सेवा करने को प्रेरित करेगी। अब बच्चों के प्रति मेरी जिम्मेदारी और बढ़ गई है।

UP Elections : भाजपा हिंदू समाज को एकजुट कर आक्रमकता से लड़ेगी चुनाव

इससे पहले भी डा. गाँधी को रूस, अर्जेन्टीना, पेरू, मंगोलिया आदि देशों के प्रतिष्ठित विश्वविद्यालयों द्वारा ‘डॉक्टरेट की मानद उपाधि’ से सम्मानित किया जा चुका है अब इंग्लैण्ड की विश्वप्रसिद्ध क्वींस यूनिवर्सिटी द्वारा प्रदान किया जा रहा यह सम्मान डा. गाँधी द्वारा विश्व के ढाई अरब बच्चों हेतु सुरक्षित व शान्तिपूर्ण विश्व व्यवस्था की स्थापना को और गति प्रदान करेगा।

साइबर अपराध पर लगेगी लगाम : सभी थानों में होंगे साइबर हेल्प डेस्क, पुलिसकर्मियों को दी जा रही स्पेशल ट्रेनिंग

डॉ. जगदीश गांधी पिछले 6 दशकों से शिक्षा के माध्यम से विश्व में एकता व शांति की स्थापना के लिए अथक प्रयास करते आ रहे हैं एवं आपके मार्गदर्शन में सिटी मोन्टेसरी स्कूल द्वारा लखनऊ की सरजमीं पर विगत 21 वर्षों से लगातार ‘विश्व के मुख्य न्यायाधीशों का अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन’ आयोजित किया जा रहा है। इन अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलनों में अब तक 136 देशों के 1233 मुख्य न्यायाधीश, न्यायाधीश तथा शासनाध्यक्ष प्रतिभाग कर चुके हैं, जिन्होंने विश्व के ढाई अरब बच्चों के सुरक्षित भविष्य हेतु सी.एम.एस. की मुहिम को भारी समर्थन दिया है।

Check Also

यूपी: राहत के साथ आफत भी लेकर आई बारिश, बिजली गिरने से चार की मौत

पूरे यूपी में करीब-करीब मानसून छा गया है। लगातार बारिश होने से प्रदेश के ज्यादातर …