Saturday , May 18 2024

पुलिस के हत्थे चढ़ा मणिपुर का कुख्यात उग्रवादी, दिल्ली के द्वारका में छिपकर रह रहा था

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में पुलिस की स्पेशल सेल ने कुकी नेशनल फ्रंट मणिपुर के एक सेल्फ-स्टाइल (एसएस) कमांडर-इन-चीफ को गिरफ्तार किया है.

महंत नरेंद्र गिरी की मौत पर मिस्ट्री, चेले आनंद गिरी से की जा रही पूछताछ

इस आरोपी का नाम मंगखोलम किपजेन उर्फ डेविड किपजेन है जो मणिपुर का रहने वाला है. आरोपी को दिल्ली के सेक्टर-7 द्वारका से गिरफ्तार किया गया है.

आरोपी के द्वारका में होने की सूचना मिली थी

19 सितम्बर की सुबह स्पेशल सेल को मणिपुर राज्य के एक वांटेड मंगखोलम किपजेन उर्फ डेविड किपजेन निवासी मणिपुर के दिल्ली के द्वारका इलाके में छिपे होने की सूचना मिली.

आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने बिछाया जाल

इसके बाद कुकी नेशनल फ्रंट के चीफ़ की गिरफ्तारी के लिए इंस्पेक्टर रविंद्र त्यागी टीम ने द्वारका इलाके में जाल बिछाया. इसके बाद मुखबिर की सूचना पर आरोपी की पहचान हुई और मौके से आरोपी को गिरफ्तार किया गया.

महंत नरेंद्र गिरी की आत्महत्या या हत्या? संपत्ति का मुद्दा भी उठा

आरोपी ने सातवीं तक पढ़ाई की है. साल 2018 में वह अपने गांव के केएनएफ कैडरों के संपर्क में आया और जबरन वसूली, डकैती समेत कई वारदातों में शामिल हो गया.

मणिपुर में कई जघन्य अपराधों के लिए कुख्यात हो गया

जल्द ही वो मणिपुर में सशस्त्र पुलिस बल के हथियार छीनने, फिरौती के लिए अपहरण, जबरन वसूली और मणिपुर में कई जघन्य अपराधों के लिए कुख्यात हो गया. जून 2020 में उसने खुद को कुकी नेशनल फ्रंट का कमांडर-इन-चीफ घोषित किया.

Live Updates: सीएम योगी ने किए महंत नरेंद्र गिरि के अंतिम दर्शन, कहा- समाज के लिए अपूरणीय क्षति

कई वारदातों में वांटेड था आरोपी

12-13 दिसंबर 2020 की रात को उसने अपने साथियों के साथ अत्याधुनिक हथियारों के साथ कांगवई पुलिस चौकी जिला चुराचांदपुर मणिपुर के दो संतरियों पर हमला किया और उनका अपहरण कर लिया. बाद में एक सर्विस राइफल इंसास को छीन लिया.

आरोपी के 8 साथी पहले ही हो चुके है गिरफ्तार

इस मामले में अवैध हथियार (4-SBBL गन और 2 पिस्टल) और लूटी गई सरकारी इंसास राइफल के साथ इसके 8 साथियों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है, लेकिन वह गिरफ्तारी से बचता रहा.

महंत नरेंद्र गिरी की मौत से सदमे में संत समाज, CM योगी सहित कई दिग्गज नेताओं ने जताया दुख

18 फरवरी 2021 को उसने अपने सहयोगियों के साथ फिरौती के लिए कालापहाड़ चुराचांदपुर मणिपुर से एक नेपाली नागरिक टिक्कराम रिजाल का अपहरण कर लिया.

इस मामले में हैपी गांव के हाओपिलुन किपगेन और पश्चिम सेल्सी गांव के लालखोहाओ को गिरफ्तार किया गया है.

आरोपी से पूछताछ जारी

हाओपिलुन किपगेन आरोपी मंगखोलम किपजेन का छोटा भाई है. 13 सितंबर 2021 को कुकी के काला दिवस पर केएनएफ ने राज्य में वाहनों की आवाजाही को प्रतिबंधित करने और सभी प्रशासनिक कार्यालयों और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को बंद करने की घोषणा की.

हरीश रावत बोले- दलित को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पद पर देखना चाहता हूं

इस समूह ने कांगपोकपी जिले के चम्फाई इलाके में नेशनल हाई 2 के किनारे एक ट्रक की आवाजाही देखी और बंद के आह्वान का उल्लंघन करने पर गोलियां चला दीं. आरोपी मांगखोलम किपगेन ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर इस घटना की जिम्मेदारी ली है.

हाल ही में वह राज्य में जबरन वसूली और आतंक के वर्चस्व के लिए मणिपुर में सड़कों और अन्य प्रतिष्ठानों के निर्माण में शामिल एक निर्माण कंपनी के कर्मचारियों का अपहरण करने की योजना बना रहा था. उसकी गिरफ्तारी की सूचना मणिपुर पुलिस को दे दी गई है. आरोपी से आगे की पूछताछ जारी है.

देश में गिरा कोरोना ग्राफ : पांच दिनों बाद मिले 30 हजार से कम नए मामले

Check Also

आज पंजाब दौरे पर जाएंगे सीएम केजरीवाल, अमृतसर में करेंगे रोड शो

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के तिहाड़ जेल से बाहर आने के बाद सियासत गरमा …