Wednesday , June 19 2024

भारत में अब तक इन पांच वैक्सीन को मिली मंजूरी…लेकिन दो वैक्सीन पर ज्यादा जोर

नई दिल्ली। देश में कम होते कोरोना वायरस के मामलों के साथ ही अब देश में पांचवीं वैक्सीन के इस्तेमाल की इजाजत मिल गई है. भारत में कोरोना के खिलाफ अब पांच वक्सीन है लेकिन ज्यादातर टीकाकरण में दो ही वैक्सीन कोविशील्ड और कोवैक्सीन के जरिए हुआ है.

यह भी पढ़ें: https://hindnews24x7.com/flood-in-jalaun-cm-did-aerial-inspection-of-flood-affected-areas-in-hindi-news19345/

भारत में 5वीं वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी

रूस की वैक्सीन अभी उतनी में संख्या नहीं है, वहीं फिलहाल दो वैक्सीन पर स्तिथि साफ नहीं है. इस बात से खुश हो सकते हैं कि, भारत मे पांच कोरोना वैक्सीन को इमरजेंसी यूज़ की अनुमति है लेकिन अभी ज्यादातर जोर दो ही वैक्सीन पर है जो टीकाकरण में शामिल है.

भारत में अब इतनी वैक्सीन

भारत बायोटेक की कोवैक्सीन, सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशील्ड, रूस की स्पुतनिक वी, मोडर्ना की एमआरएनए वैक्सीन और जॉनसन एंड जॉनसन सिंगल डोज वैक्सीन – ये सभी कोरोना की वैक्सीन है जिसे भारत में इमरजेंसी यूज़ ऑथराइजेशन मिल चुका है.

यह भी पढ़ें:https://hindnews24x7.com/infection-reduced-in-up-efforts-to-end-weekend-lockdown-intensified-in-hindi-news-7819329/

भारत में चल रहे कोरोना टीकाकरण में अभी सिर्फ तीन वैक्सीन ही उपलब्ध है – कोवैक्सीन, कोविशील्ड और स्पुतनिक वी. इसमें से भी कोरोना टीकाकरण में दो ही वैक्सीन पर ज्यादा उपलब्ध है या दी गई है.

किस वैक्सीन की कितनी डोज दी गई

कोरोना टीकाकरण के लिए सरकार द्वारा बनाई गए कोविन प्लेटफार्म के मुताबिक, देश मे हुए कोरोना टीकाकरण में 11 अगस्त सुबह 9 बजे तक 51,89,09,855 डोज दी गई है. जिसमें से सीरम इंस्टिट्यूट की कोविशील्ड 45,12,80,413 डोज दी गई है, भारत बायोटेक की कोवैक्सीन 6,35,79,671 डोज दी गई जबकि स्पुतनिक की 6,01,877 डोज दी गई है.

टीकाकरण में ज्यादातर दो ही वैक्सीन दी गई

आंकड़ों से साफ है देश में चल रहे कोरोना टीकाकरण में ज्यादातर दो ही वैक्सीन दी गई, जबकि तीसरी वैक्सीन ना के बराबर है. वहीं बाकी दो वैक्सीन मोडर्ना की एमआरएनए वैक्सीन और जॉनसन एंड जॉनसन की वैक्सीन फिलहाल उपलब्ध नहीं है, ना ही ये साफ है की कब तक ये टीकाकरण के लिए उपलब्ध होगी.

यह भी पढ़ें: https://hindnews24x7.com/now-33-services-related-to-vehicles-will-be-available-sitting-at-home-in-delhi-know-how-in-hindi-news-67833/

नीति आयोग के सदस्य डॉ वी के पॉल ने कहा कि, जो दूसरे बाहर की वैक्सीन है उनको भी लाने की कोशिश कर रहे है और फिर भारत में बनी और वैक्सीन भी आएंगी है. बातचीत चली हुई है सारे उसके इंतज़ाम कर रहे है. जो संविदात्मक बाध्यता है, उस पर आम राय बना रहे है.

जल्द स्पुतनिक का भारत मे प्रोडक्शन शुरू होगा

इसी तरह जॉनसन एंड जॉनसन को हाल में मंजूरी मिली हैं लेकिन कब तक और कितनी संख्या ये वैक्सीन उपलब्ध होगी ये अभी साफ नहीं है. इसी तरह जब तक स्पुतनिक का प्रोडक्शन देश मे शुरू नहीं होता है उसकी डोज ज्यादा उपलब्ध नहीं हो पाएगी. हालांकि उम्मीद है कि, जल्द स्पुतनिक का भारत मे प्रोडक्शन शुरू होगा और इस वैक्सीन के भी ज्यादा डोज मौजूद होंगी.

यह भी पढ़ें: https://hindnews24x7.com/baghpat-villagers-put-posters-threatens-to-mass-exodus-in-hindi-news-19318/

Check Also

पंजाब: कनाडा में विद्यार्थी अब 40 नहीं 20 घंटे प्रति सप्ताह ही कर पाएंगे काम

कनाडा गए छात्र अब फुल टाइम वर्क नहीं कर पाएंगे। कोरोना के कारण प्रति सप्ताह …