January 18, 2017 9:43 AM
Breaking News

वरुण गांधी को मिल गयी बहन, नाम है प्रिया

हिन्द न्यूज डेस्क (CHAYANIKA NIGAM)| वरुण गांधी…एक जाना-माना नाम. इनकी मां का नाम मेनका गांधी और पिता का नाम संजय गांधी. यह तो बच्चा-बच्चा जानता है. पर अगर आपको बताया जाए कि वरुण की एक बहन भी है. नहीं-नहीं, बात प्रियंका वाड्रा की नहीं हो रही. यहां तो बात उनकी बायोलॉजिकल सिस्टर होने का दावा करने वाली प्रिया सिंह पॉल की हो रही है. कई प्राइवेट न्यूज चैनलों पर बतौर एंकर, राइटर और डायरेक्टर काम भी कर चुकीं प्रिया ने अपनी फेसबुक पोस्ट में यह बात कबूली  है.

वरुण

7 जनवरी को डाली अपनी फेसबुक पोस्ट में प्रिया ने बताया है कि संजय गांधी उनके जैविक पिता थे और जब प्रिया का जन्म हुआ तो उनका नाम प्रियदर्शिनी रखा गया था. भारत सरकार में डायरेक्टर जनरल रह चुकीं प्रिया मानती हैं कि जन्म के समय वो हिन्दू पारसी थीं, जिसे एक सिख परिवार ने अपनाया. हालांकि उनकी पोस्ट पर आये कमेंट में जब उनको जन्म देने वाली मान के बारे में पुछा गया तो उन्होंने कहा कि उन्हें इस बारे में कुछ नहीं बताया गया है.

वरुण

उन्होंने अपनी पोस्ट में लिखा है कि ‘बहुत से लोगों ने मुझसे पूछी है ये बात. पर मुझे इसे बताने में कोई शर्म या डर महसूस नहीं होता. यह सच है कि संजय गांधी मेरे जैविक पिता थे और जब मेरा जन्म हुआ तो मेरा नाम प्रियदर्शिनी रखा गया था. मूसा और कृष्णा भी कहीं और जन्मे थे और किसी और के द्वारा पाले गये थे. जब महाभारत में कर्ण के सच का खुलासा हो गया था तो वो अपमानित तो नहीं हुए थे.

जीसस भी अपनी मां की शादी की डेट से पहले ही आ चुके थे.इस सच को दबाये मैं सालों से जी रही हूं. इस सच से मेरे बायोलॉजिकल पिता और माता तथा उनके परिवार वालों को कोई नुकसान नहीं होना चाहिए.’ प्रिया के जन्म का यह राज उन्हें पलने वाली उनकी मां शीला सिंह पॉल ने बताया था. साथ ही उनके पिता के बारे में भी विवरण दिया था. उनकी आंटी विमला गुजराल ने भी ये सच बताया था.

यह भी पढ़ें- बर्थडे : जानें द्रविड़ के क्रिकेट से जुड़े शानदार किस्से

उठे सवाल-

पर प्रिया की इस पोस्ट पर कमेंट उनके दावे पर सवाल उठाते नजर आ रहे हैं. एक कमेंट में  प्रिया की मां प्रोफेसर शीला सिंह पॉल की उम्र और संजय गांधी की उम्र को लेकर सवाल उठाए गए हैं. क्योंकि प्रो. शीला का जन्म 12 सितम्बर 1916 को हुआ था और संजय गांधी का जन्म 14 दिसंबर 1946 को हुआ था. इसके जवाब देते हुए प्रिया सिंह पॉल कहती हैं कि प्रोफेसर शीला और सिंह पॉल परिवार ने उन्हें गोद लिया था, जो उनके दादा-दादी के मित्र थे.

 वरुण

प्रिया के प्रोफाइल पर किसी ने गांधी परिवार से उनके मिलते-जुलते चेहरे को दिखाती तस्वीरें भी डालीं हैं.

 वरुण

यह भी पढ़ें-‘बहुत हुई लड़ाई, अब करो सुलह, ज्यादा वक्त नहीं है’