January 22, 2017 3:15 AM
Breaking News

यह ऐसा देश है जहां आप सरकारी खर्च पर कॉलगर्ल के साथ बना सकते हैं शारीरिक संबंध

हिन्द न्यूज़ डेस्क| ‘सेक्स’ हर इंसान की मूलभूत आवश्यताओं में से एक अहम क्रिया है. इसके बावजूद लोग सेक्स पर खुलकर चर्चा करने से अब भी कतराते हैं. भारत के साथ ही दुनियाभर के कई देशों में जहां सेक्स को चारदीवारी के अंदर की एक बात माना जाता है. वहीं एक देश ऐसा भी है जहां कॉलगर्ल के साथ सेक्स करने का खर्च वहां की सरकार वहन करती है. सुनने में यह बात जरूर अजीब लग सकती है, लेकिन यह शत-प्रतिशत सच है.

नीदरलैंड में किसी मरीज के इलाज के दौरान डॉक्टर की सलाह पर दवाओं के साथ-साथ कॉलगर्ल से सेक्स करने पर होने वाले खर्च को भी इलाज के खर्च में शामिल करने का प्रावधान है. यही नहीं, इसे सरकार से वापस लेने का दावा करने का भी प्रावधान भी है.

यह भी पढ़े- अगर आपके भी जूते चोरी हुए हैं या फिर टूटे, तो यह ज़रूर पढ़ लें..

यहां कॉलगर्ल संग शारीरिक संबंध बनाने का खर्च भी उठाती है सरकार

 

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, नीदरलैंड में मरीजों को मिलने वाली इस विशेष सुविधा के बाद अब जर्मनी में भी ऐसी सुविधा दिए जाने की मांग जोर पकड़ने लगी है. वैसे भी जर्मनी में 2002 से वेश्यावृति को कानूनी मान्यता प्राप्त है.

इसे देखते हुए जर्मनी की ग्रीन पार्टी की प्रवक्ता एलिजाबेथ स्कैरफेनबर्ग ने कहा है कि अपंग और गंभीर रूप से बीमार लोग अगर पैसे देकर सेक्स करते हैं तो उन्हें यह पैसा सरकार से वापस लेने का हक मिलना चाहिए.

लेकिन, मरीजों को इस सुविधा का लाभ लेने के लिए यह साबित करना होगा कि उन्हें इलाज के लिए सेक्स की जरूरत है और इसके लिए उनके पास पैसे नहीं हैं.

स्कैरफेनबर्ग ने वेल्ट एएम सोनटैग अखबार से कहा कि मेरा मानना है कि सेक्स करने के लिए स्थानीय अधिकारियों को आर्थिक मदद देनी चाहिए.

अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, कई कॉलगर्ल और सेक्स वर्करों ने अस्पतालों और नर्सिंग होम में अपनी सेवाएं दी हैं. नर्सिंग होम में सेक्स संबंधी सलाह देने वालों का कहना है कि सेक्स वर्कर मरीजों के लिए किसी ‘वरदान’ से कम नहीं थीं.