September 25, 2017 1:40 PM
Breaking News

मुजफ्फरनगर से पकड़े गए आतंकी की तमन्ना थी, सिर्फ शादी

हिन्द न्यूज डेस्क| उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर से पकड़ा गया ‘अन्सारल्ला बांग्ला टीम’ का संदिग्ध आतंकी अब्दुल्ला अल मामून कभी इमाम हुआ करता था. और उसकी तमन्ना शादी करने की थी. देवबंद के अमहटा गांव, जहाँ वो इमाम के तौर पर काम करता था, वहां के लोग यही बताते हैं.

मुजफ्फरनगर

उत्तर प्रदेश: मकोका की तर्ज पर आने योगी लाएंगे यूपीकोका!

एक स्थानीय मोहम्मद शफीक ने बताया, मुजफ्फरनगर जाने से पहले वह यहां इमाम के तौर पर काम किया करता था.वह हमेशा लोगों से शादी के लिए एक लड़की ढूंढकर लाने के लिए कहता रहता था. 2016 में जामा मस्जिद प्रशासन के अधिकारियों ने दारुल-उलूम देवबंद की दीवारों पर इमाम के पद के लिए विज्ञप्ति दी थी जिसके बाद अब्दुल्ला की अहमटा गांव की जामा मस्जिद में इमाम पद पर नियुक्ति हुई थी. मस्जिद के एक सदस्य ने बताया, वह 13 महीने पहले हमारे गांव आया था. मस्जिद में काफी वक्त से कोई इमाम नहीं था इसलिए हमने विज्ञापन दिया था और उसके बाद इमाम के पद पर उसकी नियुक्ति की गई थी. उ

loading...