May 28, 2017 2:47 AM
Breaking News

प्रियंका ‘भईयाजी’ की जय हो

हिन्द न्यूज डेस्क| भारत की राजनीति में ‘फर्स्ट फॅमिली’ कहलाने वाले गांधी परिवार की एकलौती बेटी प्रियंका गांधी का आज जन्मदिन है. प्रियंका यानी वो शख्सियत जो अधिकारिक तौर पर राजनीति में आए बिना ही भारतीय राजनीति में अहम किरदार निभाती हैं. आज 44 साल की हुईं प्रियंका के जीवन से कई रोचक बातें जुड़ी हैं-

प्रियंका

यह भी पढ़ें- गेल (इंडिया) लिमिटेड में एग्जीक्यूटिव ट्रेनी पदों पर भर्ती, जल्द करे आवेदन

इसलिए प्रियंका बनीं भईयाजी

वो ऐसा नाम हैं, जो आम जनता के बीच काफी पॉपुलर हैं, खास तौर पर अमेठी में. आज प्रियंका के जन्मदिन पर हम आपको एक अनोखी बात बताते हैं. अमेठी का एक बड़ा तबका उन्हें ‘भईयाजी’ कहता है. प्यार से दिया गया यह नाम प्रियंका को उनके बचपन में मिला था. दरअसल  बचपन में राजीव और सोनिया के साथ अमेठी जाने पर प्रियंका गांधी के बाल हमेशा से छोटे रहते थे. अमेठी में गांव के ज़्यादातर लोग राहुल की तरह उन्हें भी भईया बुलाने लगे जो बाद में बदल कर भईयाजी हो गया.

प्रियंका

यह भी पढ़ें-रूस: 2015 के बाद जन्म लेने वालों को सिगरेट नहीं

इंदिरा जैसी प्रियंका

प्रियंका के बारे में एक ख़ास बात और है. कुछ समय पहले  इंदिरा के करीबी एमएल फोतेदार ने दावा किया है कि पूर्व पीएम ने उनसे प्रियंका में राजनीतिक वारिस नजर आने की बात कही थी. फोतेदार ने इंदिरा के आखिरी वक्त के इस नाटकीय दौर का खुलासा अपनी किताब में किया था. उन्होंने लिखा था, ‘इंदिरा ने अक्टूबर 1984 में कश्मीर का दौरा किया था. इंदिरा वहां हिंदू और मुस्लिम धार्मिक स्थल गई थीं. इंदिरा ने हिंदू मंदिर में कुछ ऐसा देखा कि उन्हें लगने लगा कि उनकी जिंदगी का अंत करीब है. इसके बाद ही बहुत सोच-विचार के बाद इंदिरा ने कहा था कि प्रियंका राजनीति में कामयाब हो सकती है और लंबे समय तक पावर में रह सकती है.’

प्रियंका

यह भी पढ़ें-रहस्मयी है मोना डार्लिंग, पहला लुक जारी

यूं हुआ था प्यार

देश के सबसे बड़े राजनीतिक घराने में जन्‍मी प्रियंका कड़ी सुरक्षा में पली-बढ़ी. इस दौरान न तो वह किसी से ज्‍यादा दोस्‍ती कर सकी और न ही ज्‍यादा किसी से घुल-मिल सकी. इस बीच उनकी जिंदगी में कई बार ऐसे मोड़ आए, जब उसके सबसे करीबी भी एक-एक करके दूर होते चले गए. जब वह 13 साल की थीं तो उन्‍होंने स्‍कूल में पढ़ने वाले राबर्ट वाड्रा को देखा. स्कूल में साथ पढ़े राबर्ट को देखते ही उन्‍हें पहली नजर में उनसे प्‍यार हो गयाथा.

प्रियंका

रॉबर्ट वाड्रा अक्सर प्रियंका के घर आते-जाते रहते थे. वे राहुल गांधी के भी अच्छे दोस्त बन गए थे. देश के सबसे बड़े राजनैतिक घराने की बेटी को प्रपोज करने के लिए भी रॉबर्ट को काफी हिम्मत दिखानी पड़ी. आखिरकार 18 फरवरी 1997 में दोनों की शादी हो गई.

 

loading...