May 24, 2017 9:57 AM
Breaking News

नेचर के गुणों से दूर कर सकेंगे उच्च रक्त चाप का बढ़ना

हिन्द न्यूज़ डेस्क . रोज की भागदौड़ से आप अपने खानपान को ध्यान नहीं दे पाते हैं. इसी के चलते आप अपने स्वास्थ को बिगाड़ लेते हैं. अगर आप हर दिन यही रूटीन अपना रहें हैं तो आप घर बैठे बीमारियों को बुलावा दे रहे हैं. इससे आपके ब्लड प्रेशर की समस्या में काफी इजाफा होने लगता है. यही नहीं ज्यादा सोचना भी आपके उच्च रक्त-चाप और  ब्लड प्रेशर का कारण बन जाता है. तो इससे बचने के कुछ उपाय भी जानना आपके लिए जरूरी है.

blood-pressure-hindi

प्राकृतिक तरीके से हाई ब्लड प्रेशर को कैसे नियंत्रित करें

उच्च रक्तचाप के रोगी जीवन शैली में पोषण का समावेश करके अप्रत्याश्चित लाभ ले सकते हैं. फल और सब्जियों की मात्रा बढ़ाकर वह न केवल अपने उच्च रक्तचाप को सामान्य कर सकते हैं बल्कि अपने वजन को भी कम कर सकते हैं जो उच्च रक्तचाप को समान्य रखने में और मदद करेगा.
प्रोसेस्ड बनाम अनप्रोसेस्ड : उच्च रक्तचाप के रोगी को प्रोसेस्ड चीज़ो के बजाय अनप्रोसेस्ड और अनरिफाईन्ड, ताजा तथा पूर्ण चीज़ो का सेवन करना चाहिए.

132126-high-blood-pressure
कम नमक और हाई पोटासियम : वाला आहार लेना चाहिए. अधिकतर लोग यह जानते हैं कि नमक की मात्रा कम करने से रक्तचाप को कम करने में मदद मिलती है लेकिन यह बात कम लोग जानते हैं कि इसके साथ अगर पोटासियम (Potassium) की मात्रा को आहार में बढ़ा दिया जाए तो ज्यादा लाभ मिलता है. उच्च रक्तचाप के लोगों को डेयरी उत्पादों, तली हुई चीज़ें, जंक फूड, कॉफ़ी इत्यादि का सेवन कम से कम करना चाहिए.प्रतिदिन कम से कम 8 से 10 गिलास पानी अवश्य पिएं.

 

loading...