April 25, 2017 2:11 PM
Breaking News

धूम्रपान से विश्व अर्थव्यवस्था को हर साल 1,000 अरब डॉलर का नुकसान

हिन्द न्यूज डेस्क।  धूम्रपान न सिर्फ मानव जीवन के लिए हानिकारक है बल्कि विश्व अर्थव्यवस्था को भी इससे हर साल 1,000 अरब डॉलर का नुकसान होता है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) और अमेरिकी राष्ट्रीय कैंसर संस्थान की हाल ही में आई रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है.

यह भी पढ़े- हॉट सीट पर बैठते ही ‘चीकू’ ने दिया विराट गुरुमंत्र

smoking-injurious-to-health

वैश्विक स्तर पर तैयार की गई ‘द इकोनॉमिक्स ऑफ टोबैको एंड टोबैको कंट्रोल’ शीर्षक वाले रिपोर्ट में कहा गया है कि तंबाकू उद्योग और तंबाकू उत्पादों के सेवन के घातक प्रभाव से स्वास्थ्य पर होने वाले खर्च के कारण अर्थव्यवस्था को सालाना 1,000 अरब डॉलर का नुकसान होता है और इससे उत्पादकता भी प्रभावित होती है.

यह भी पढ़े- इंग्लैंड दौरा रद्द कराने के लिए इस ‘भेदी’ ने किया था ईसीबी को फोन

 रिपोर्ट के अनुसार

तंबाकू उत्पादों के सेवन से पूरी दुनिया में हर साल 60 लाख लोगों की मौत हो जाती है. गौरतलब है कि तंबाकू सेवन के कारण होने वाली अधिकांश मौतें विकासशील देशों में होती हैं.

loading...