September 22, 2017 8:17 AM
Breaking News

तकरार ने बना दिया टीपू को निर्दलीय प्रत्याशी, बबीना से लड़ेगें चुनाव

हिन्द न्यूज़ डेस्क| साल 2016 जाते-जाते सपा कोदर्द देते हुए जा रहा है. घर में मची आपसी कलह खुलकर लोगों के समाने आ रही. अब टिकेट बंटवारे को लेकर शुरू हुई घमासान ने एक नया मोड़ ले लिए है. इस बार टीपू ने घर में ही बगावत कर दी है.
mulayam-akhilesh
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (टीपू) ने सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव से मुलाकात के बाद 235 उम्मीदवारों की सूची जारी की थी, जिसके बाद ही देर रात उनके चाचा शिवपाल सिंह यादव ने पार्टी के 68 अन्य उम्मीदवारों की भी दूसरी सूची जारी कर दी. इससे पहले बुधवार को मुलायम-शिवपाल पहले ही 325 प्रत्याशियों की पहली सूची जारी कर चुके हैं. प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल की ओर से अब तक 393 उम्मीदवारों की घोषणा हो चुकी है अब केवल 10 सीटें बची हैं जिन पर उम्मीदवारों की घोषणा होनी बाकी है.
इन सभी के बाद आज सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अखिलेश यादव निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में बबीना सीट से चुनाव लड़ सकते है.जब की अभी कुछ दिन पहले पिता मुलायम सिंह ने सपा से उम्मीदवार की मैदान में उतार दिया है.
इस तरह अखिलेश के समर्थन में शुरू होगा अभियान
बबीना विधान सीट से समाजवादी पार्टी के टिकट के लिये दावेदार रहे राहुल यादव ने कहा कि क्षेत्रीय सांसद और उमा भारती ने सी एम अखिलेश यादव पर जिस तरह टिप्पणी की है, उससे जनता जवाब देने को तैयार है. राहुल ने कहा कि बुन्देलखण्ड के विकास के लिये सीएम अखिलेश यादव ने जिस तरह के काम किये हैं, उसके बदले में लोग उन्हें वोट के माध्यम से धन्यवाद देना चाहते हैं.
akhilesh-16
बबीना सीट पर सबसे अधिक कयास
इस समय मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बुन्देलखण्ड से चुनाव लडऩे का सबसे अधिक कयास बबीना सीट को लेकर ही लगाया जा रहा है. विधान सभा चुनाव 2012 में इस सीट पर पूर्व सांसद डॉ चंद्रपाल यादव को सपा ने प्रत्याशी बनाया था जो बसपा प्रत्याशी से हार गए थे. तब उमा भारती के भी इस सीट से चुनाव लडऩे के कयास लगाये गए थे लेकिन उन्होंने महोबा के चरखारी सीट से चुनाव लड़ा रहा. बुधवार को एक कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने यह ऐलान किया है कि यदि अखिलेश यादव बबीना से चुनाव लड़े तो हार जायेंगे.
loading...

Leave a Reply