March 30, 2017 4:25 AM
Breaking News

जब बतौर कप्तान आखिरी बार बल्लेबाजी के लिए उतरे धौनी

हिन्द न्यूज डेस्क। महेंद्र सिंह धौनी भले ही अपनी कप्तानी में अपना आखिरी मैच हार गये, लेकिन उन्होंने मंगलवार को मैदान पर फैंस का दिल जीत लिया. कैप्टन कूल धौनी ने अपने समर्थकों को जरा भी निराश नहीं किया और हर क्षेत्र में दर्शकों का मनोरंजन कराया. जब-जब वे बल्ले का कमाल दिखा रहे थे स्टेडियम में बैठे दर्शक बोल उठे धौनी मार रहा है…धौनी मार रहा है कह कर बतौर आखिरी बार कप्तान बनें धौनी का खूब मनोबल बढाया.

भारत-ए ने ब्रेबोर्न स्टेडियम में हुए इस अभ्यास मैच में धौनी (नाबाद 68) की चिर-परिचित कप्तानी पारी के बल पर 304 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया, लेकिन इंग्लैंड ने सैम बिलिंग्स (93) के बल पर सात गेंद शेष रहते 307 रन बनाकर जीत हासिल कर ली.

dhoni_7_0

इंग्लैंड ने बल्लेबाजी का दिया न्यौंता

इंग्लैंड ने टॉस जीत कर इंडिया-ए को पहले बल्लेबाजी का न्यौता दिया. भारत-ए ने अंबाती रायडू (100), धौनी, शिखर धवन (63) और युवराज सिंह (56) की शानदार पारियों की मदद से पांच विकेट के नुकसान पर 304 रन बनाए.

धौनी ने वोक्स द्वारा फेंके गए आखिरी ओवर में दो छक्के और दो चौके लगाते हुए 23 रन जुटाए और टीम को 304 रनों का चुनौतीपूर्ण स्कोर प्रदान किया.

इंडिया-ए की तरफ से कुलदीप ने पांच विकेट लिए. पांड्या और युजवेन्द्र चहल को एक-एक विकेट मिला.

यह भी पढ़े- ब्यूटीफुल सोफिया का चला जादू ‘दंगल गर्ल’ को मात्र 46 सेकंड में चटा दी धूल

dhoni_650x400_61477139971

भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही

इससे पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंडिया-ए को अच्छी शुरुआत नहीं मिली. धवन के साथ पारी की शुरुआत करने आए मनदीप सिंह (8) 25 के कुल स्कोर पर ही पवेलियन लौट गए. रायडु ने फिर धवन के साथ टीम को मजबूती प्रदान की और दूसरे विकेट के लिए 111 रन जोड़े. धवन के जाने के बाद रायडु ने युवराज के साथ भी बड़ी साझेदारी की और तीसरे विकेट के लिए 91 रन टीम के खाते में डाले.

227 के कुल स्कोर पर रायडु रिटायर्ड हर्ट हो गए. उन्होंने शतकीय पारी में 97 गेंदों का सामना किया तथा 11 चौके और एक छक्का लगाया. धोनी मैदान पर उतरे लेकिन उनके पुराने जोड़ीदार युवराज कुछ ही देर बार जैक बॉल की गेंद पर राशिद को कैच थमा कर पवेलियन लौट गए.

यह भी पढ़े- चीफ गेस्ट बनना सौरव गांगुली को पड़ सकता है महंगा

dhm

धौनी ने अंत के ओवरों में आक्रामक रुख अपनाकर तेजी से रन बनाए. उन्होंने अपनी अर्धशतकीय पारी में 40 गेंदों में आठ चौके और दो छक्के लगाए.

धवन ने दिया वापसी के संकेत

बायें हाथ के सलामी बल्लेबाज धवन को वनडे टीम में चुना गया है और उन पर रन बनाने का दबाव था. उन्होंने 84 गेंदों का सामना करके आठ चौके और एक छक्का लगाया तथा फार्म में वापसी के संकेत दिये. युवराज ने अपना पुराना रंग दिखाने का वादा पूरा किया तथा कुछ आकर्षक शॉट लगाये.

यह भी पढ़े- 73 दिन बाद आज धौनी देंगे कप्तानी की अंतिम परीक्षा

images