July 22, 2017 4:11 AM
Breaking News

कुत्ते की मौत से दुखी युवक ने की आत्महत्या

हिन्द न्यूज़ डेस्क। जानवरों से इतना गहरा प्यार क्या किसी का होगा की खुद अपनी जान ही दे दी जाये जी हाँ आप भी सुनकर हैरान हो जायेंगे की कैसे एक इंसान ने अपने कुत्ते की मौत से दुखी होकर अपनी जान  दे दी.

msid-56470884width-400resizemode-4student-commits-suicide-1

जानकारी के अनुसार  इंसान और जानवर का रिश्ता कितना भावुक हो सकता है, इसका सही-सही अंदाजा शायद वही लगा सकते हैं जो कि खुद जानवरों से बेहद प्यार करते हों.पुणे में एक ऐसी घटना सामने आई है जहां अपने कुत्ते की मौत से दुखी एक युवक ने आत्महत्या का रास्ता चुना.

युवक अपने पीछे एक सूइसाइड नोट भी छोड़कर गया है, जिसमें उसने लिखा है कि कुत्ते की मौत से वह इतना दुखी है कि उसे आत्महत्या के सिवा कोई और रास्ता नजर नहीं आ रहा.

यह भी पढ़ें-संगम में कल से उमड़ेगा आस्था का सैलाब

22 साल का कंवर हर्षवर्धन राघव मैनेजमेंट का छात्र था. सोमवार रात कथित तौर पर उसने 6ठी मंजिल पर स्थित अपने एक रिश्तेदार के घर से नीचे कूदकर आत्महत्या कर ली. घटना पुणे के हड़पसर की है. पुलिस के मुताबिक, 8 महीने पहले राघव के कुत्ते सिस्का की मौत हो गई थी. सिस्का की मौत से राघव बेहद उदास था. बताया जा रहा है कि उसकी खुदकुशी के पीछे भी यही कारण है.

यह भी पढ़ें-चेक करें अपनी मेल ID कहीं बंद तो नहीं हो गई

राघव मूल रूप से छत्तीसगढ़ के रायपुर का रहने वाला है. राघव ने एक चिट्ठी भी छोड़ी है. इस चिट्ठी में उसने लिखा है कि सिस्का की मौत से वह बहुत दुखी था. राघव खाड़की की एक यूनिवर्सिटी में MBA प्रथम वर्ष का छात्र था। वह कॉलेज के हॉस्टल में रहता था. राघव के पिता सैन्य अधिकारी हैं.

यह भी पढ़ें-लड़के और बहू के चक्कर में आकर रामगोपाल तोड़ रहे पार्टी’

उसकी बहन आर्म्ड फोर्सेस मेडिकल कॉलेज में डॉक्टर है. उसके दादा और नाना और कई अन्य रिश्तेदार सेना में वरिष्ठ अधिकारी रहे हैं. हड़पसर पुलिस थाने के वरिष्ठ इंस्पेक्टर विष्णु पवार के मुताबिक, राघव ने गोंधालेनगर स्थित आर्मी वेलफेअर हाउजिंग ऑर्गनाइज़ेशन में रात करीब 8.30 बजे एक इमारत से नीचे कूदकर आत्महत्या कर ली. पुलिस के मुताबिक, राघव पढ़ने में बहुत अच्छा था.

loading...