September 22, 2017 8:06 AM
Breaking News

कानपुर का हैलट अस्पताल पूरे देश को सिखाएगा आपदा में घायलों को तुरंत उपचार का तरीका

कानपुर के हैलट अस्पताल में अब सर्जरी विभाग में आपदा प्रबंधन कौशल विभाग केंद्र खोलकर स्वास्थ मंत्रालय ने राहत का काम किया है साथ ही अब स्वास्थ मंत्रालय की टीम ने मंगलवार को इस केंद्र को मंजूरी भी दे दी है। इस केंद्र के जरिये पुरे देश के लोगो को आपदा के समय घायलों को कैसे बचाया जाए यह भी सिखाया जायगा।

hailat-1

आपको बता दे की जब से पुखराया रेल हादसे में जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के डाक्टरों के इलाज को लेकर काफी सराहा गया है। स्वास्थ मंत्रालय ने इस केंद्र के लिये 3.5 करोड़ रूपए का बजट तय किया है एवम 6 महीने में केंद्र का निर्माण होना है यह भी बताया।

यह भी पढ़े- कानून का पालन करने वाले ही उड़ा रहे हैं इसकी धज्जियां

इस केंद्र के जरिये हैलट अस्पताल के दूसरे जिलो के साथ साथ पूरे देश में आपदा के समय घायलों को तुरंत उपचार कैसे दिया जाए यह भी सिखया जायगा। इस केंद्र में अन्य जिलो के डॉक्टर, नर्सो और पैर मेडिकल स्टाफ के सभी लोगो को घायलों की तुरंत उपचार का कैसे किया जाए यह जानकारी भी उन सभी को दी जायगी।

साथ ही साथ आपको यह भी बताते चले की मेडिकल कॉलेज के प्रचार्य डॉ. नवनीत कुमार और प्रमुख अधीचक डॉ. आरसी गुप्ता ने केंद्र के लिए डॉ.अपूर्व अग्रवाल ओर डॉ. अनुराग सिंह को नोडल अधिकारी भी बनाया है।

इसके साथ ही  स्वास्थ मंत्रालय के अन्य निदेशक डॉ.वीके चौधरी और आरऍमएल अस्पताल दिल्ली के डॉ. संजीव शर्मा हैलट के सर्जरी विभाग का निर्देशन भी किया।

वही स्वास्थ मंत्रालय के नोडल अधिकारी डॉ.अपूर्व अग्रवाल ने बताया की स्वास्थ मंत्रालय की टीम ने इस केंद्र का निरीक्षण कर जगह के लिये मंजूरी दे दी है। आपदा पर देश के स्टेंडर्ड प्रोटोकॉल को भी लागु किया जायगा साथ ही साथ एम्बुलेंस के चालको और संचालको को भी सीख दी जायगी।

loading...

Leave a Reply