August 23, 2017 11:38 AM
Breaking News

कहीं आपका मोटापा छीन न लें आपकी ख़ुशी

हिन्द न्यूज़ डेस्क : आपका जरूरत से ज्यादा मोटापा आपकी पर्सनालिटी को हाइड कर देता है. यही नहीं आपको किसी के सामने जाने में भी हिचक फ़ील होने लगती है. यह सिर्फ आपकी ही प्रॉबलम नहीं है बल्कि 76 पर्सेंट जनसंख्या  एक्स्ट्रा फैट से परेशान है. यही नहीं यह आप पर नकारात्मक प्रभाव भी डालते हैं.

images

क्या कहते हैं एक्सपर्ट-
आस्ट्रेलिया के माफ फिटनेस के एक ऑफिसर फिलिप माफेटोन ने कहा कि मोटापे के कारण पुरानी बीमारियों को बढ़ावा मिलता है, हेल्थ केयर पर खर्चा अधिक होता है और लोगों की आय पर भी प्रभाव पड़ता है. ऐसे में ये एक ग्लोबल कंसर्न है. शोधकर्ताओं ने कहा कि ज्यादा वजन और मोटापे से ग्रसित लोगों के अलावा दूसरे लोग एक्स्ट्रा फैट की कैटेगिरी में शामिल हो रहे हैं. इसमें सामान्य वजन वाले लोग भी शामिल हैं.

पुरानी बीमारियों का जोखिम-

माफेटोन ने कहा कि एक्स्ट्रा फैट की कैटेगिरी में सामान्य वजन वाले लोग भी शामिल हैं. इससे इनमें पुरानी बीमारियों के होने का जोखिम बढ़ जाता है. इसमें ज्यादा पेट की चर्बी शामिल है.

उन्होंने कहा कि एक्स्ट्रा फैट की महामारी से डेली एक्स रसाइज करने वाले या खेलों में हिस्सा लेने वाले भी नहीं बचे हैं.

Body concerns

तीन-चार दशकों से ज्यादा फैली है ये महामारी-

रिसर्च में कहा गया है कि मोटापे की महामारी बीते तीन से चार दशकों तेजी से बढ़ी है. रिसर्च में बहुत ज्यादा संख्या में लोगों में अनहेल्दी बॉडी फैट के होने की बात कही गई है.

फैट की कमी से भी गुजर रहे हैं लोग-

शोध में यह भी बताया गया है कि दुनिया की 9-10 पर्सेंट जनसंख्या को फैट की कमी है. शोध में संकेत दिया गया है कि दुनिया की 14 पर्सेंट जनसंख्या में फैट का सामान्य स्तर है. शोध का प्रकाशन पत्रिका ‘फ्रंटियर्स इन पब्लिक हेल्थ’ में किया गया है.

 

loading...